सड़क पर डेढ़ घंटे संघर्ष करने के बाद...

सड़क पर डेढ़ घंटे संघर्ष करने के बाद...
Elephant Death In Kota

manish chaturvedi | Updated: 21 Sep 2019, 09:24:45 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

आखिरकार कोटा में शनिवार को गंगा हाथी ने दम तोड़ दिया। बीमार हाथी को बचाने के लिए प्रयत्न किए गए, लेकिन सफल नहीं हुए। जिसके चलते बीमार हाथी ने करीब डेढ़ घंटे तक सड़क पर संघर्ष किया। उसके बाद हाथी की मौत हो गई।

आखिरकार कोटा में शनिवार को गंगा हाथी ने दम तोड़ दिया। बीमार हाथी को बचाने के लिए प्रयत्न किए गए, लेकिन सफल नहीं हुए। जिसके चलते बीमार हाथी ने करीब डेढ़ घंटे तक सड़क पर संघर्ष किया। उसके बाद हाथी की मौत हो गई।

शनिवार को सीएडी चौराहा स्थित अन्ना चौक के पास व्यस्ततम मुख्य मार्ग पर शनिवार दोपहर एक हाथी चलता-चलता गिर पड़ा। इस दौरान हाथी के अचानक गिरने से आगे पीछे चल रहे वाहन चालक सकते में आ गए। कुछ लोग वाहन छोड़कर भाग छूटे। जिस जगह पर हाथी गिरा वहां पर एक पेड के नीचे पंचर की दुकान भी है। जैसे ही हाथी गिरा, दुकान पर बैठे लोगों के साथ पंचर बना रहे फारूख भाई जान बचाकर भाग छूटे। हाथी पर बैठा महावत भी गिर पड़ा। सड़क पर गिरते ही हाथी चिंघाडने लगा। जिससे आसपास के लोग डर गए। तुरंत पुलिस व नगर निगम की टीम मौके पर पहुंची। दो जेसीबी मशीन व एक क्रेन मंगवाई गई। बीमार हाथी की बढ़ती तकलीफ को देख हुए चिकित्सा टीम मौके पर पहुंची और हाथी का उपचार किया।

इस बीच वन विभाग की टीम को भी सूचित किया गया। लेकिन टीम देरी तक मौके पर नहीं पहुंची। इस दौरान सड़क पर लोगों का हुजूम लगा रहा। वहीं, जिम्मेदार के मौके पर नहीं आए। जिसके बाद आखिरकार गंगा हाथी ने दम तोड़ दिया।

हाथी के महावत भजन दास ने बताया कि यह हाथी बैठ जाता था तो उठ नहीं पाता था उठता था बैठ नहीं पता था। इससे पहले डॉक्टर को भी दिखाया था। शनिवार को यह अचानक चलते-चलते गिर पड़ा।
मुख्य सड़क पर हाथी के अचानक गिर जाने के बाद में लोगों की भीड़ इकट्ठी हो गई। मुख्य मार्ग से क्रेन की मदद से हाथी को साइड में किया गया। लोगों की सूचना पर वुमन हेल्पलाइन की टीम मनोज जैन आदिनाथ के साथ मौके पर पहुंची। बाद में आदिनाथ में डॉक्टर अखिलेश पांडे को मौके पर बुलाया और हाथी का इलाज शुरू किया। करीब डेढ़ घंटा इलाज के बाद भी हाथी को नहीं बचाया जा सका। आदिनाथ के अनुसार उन्होंने वन विभाग व पशुपालन विभाग समेत अन्य विभागों को सूचित किया। लेकिन कोई मौके पर नहीं आया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned