इंजीनियरिंग में दाखिले की प्रक्रिया शुरू, मंत्री ने किया रीप पोर्टल का शुभारंभ

तकनीकी शिक्षा विभाग ( Department of Technical Education ) की ओर से राज्य में इंजीनियरिंग पाठ्क्रमों में प्रवेश ( Engineering admission process ) के लिए बुधवार को रीप—2020 पोर्टल ( REAP-2020 portal ) का तकनीकी शिक्षामंत्री राज्यमंत्री सुभाष गर्ग ( Minister of State for Technical Education, Subhash Garg ) ने शुभारंभ किया।

By: Ashish

Published: 15 Jul 2020, 01:51 PM IST

जयपुर
Department of Technical Education : तकनीकी शिक्षा विभाग ( Department of Technical Education ) की ओर से राज्य में इंजीनियरिंग पाठ्क्रमों में प्रवेश ( Engineering admission process ) के लिए बुधवार को रीप—2020 पोर्टल ( REAP-2020 portal ) का तकनीकी शिक्षामंत्री राज्यमंत्री सुभाष गर्ग ( Minister of State for Technical Education, Subhash Garg ) ने शुभारंभ किया। इस अवसर पर मंत्री गर्ग ने बताया कि कोविड-19 महामारी से उत्पन्न हुई परिस्थितियों के मद्देनजर छात्रों के हितों को ध्यान में रखते हुए पिछले साल की तुलना में इस साल पंजीयन फीस कम की गई है। छात्रों के पंजीकरण के लिए सिर्फ 250 रुपए का शुल्क रखा गया है। साथ ही केन्द्रीयकृत प्रवेश प्रक्रिया रीप-2020 के अन्तर्गत आने वाली सभी सीटों पर प्रवेश 12वीं और डिप्लोमा के प्राप्ताकों के आधार पर किए जाएंगे।

सेन्टर फॉर इलैक्ट्रॉनिक्स गवर्नेन्स जयपुर की ओर से अभियांत्रिकी पाठ्यक्रमों में ऑनलाईन प्रवेश प्रक्रिया के लिए पहली बार खुद वेब पोर्टल http://www.cegreap2020.com का विकसित किया गया है। इस अवसर पर तकनीकी शिक्षा विभाग की शासन सचिव शुचि शर्मा, संयुक्त शासन सचिव अनिल अग्रवाल, संयुक्त सचिव डॉ. मनीष गुप्ता, रीप के संयोजक और सीईजी के निदेशक डॉ. संदीप कुमार, रविन्द्र स्वामी समेत अन्य मौजूद रहे।

रीप-2020 के कन्वीनर डॉ संदीप ने बताया कि बुधवार से पोर्टल पर राज्य के अभियांत्रिकी महाविद्यालयों के लिए पंजीकरण की प्रक्रिया शुरू हो गई है। 25 जुलाई तक कॉलेज अपना पंजीयन करवा सकते हैं। अभ्यर्थियों के लिए पंजीयन की प्रक्रिया 30 जुलाई से शुरू होगी जो कि 20 अगस्त तक चलेगी। इसके अतिरिक्त सीईजी ने राज्य में स्थित संस्थानों में एमबीए, एमसीए , बी.टैक पार्श्व प्रवेश की दाखिला प्रक्रिया के लिए भी पोर्टल विकसित किया जा रहा है जिसके माध्यम से विभिन्न संस्थानों में सत्र 2020-21 हेतु प्रवेश प्रक्रिया पूरी की जाएगी।

सीईजी की ओर से राज्य में तकनीकी शिक्षा यथा बी.टैक, पॅालीटैक्निक डिप्लोमा, आईटीआई, एमबीए, एमसीए इत्यादि में अध्ययनरत/ पासआउट होने वाले अभ्यर्थियों को रोजगार के बेहतर अवसर उपलब्ध कराने हेतु केन्द्रीयकृत प्लेसमेंट सैल का पोर्टल् http://cegrajasthan.org/भी विकसित किया गया है, जिसमें बुधवार तक विभिन्न पाठ्यक्रमों के 6874 अभ्यर्थियों का निःशुल्क पंजीयन हो चुका है। इसके जरिए अब तक 3036 अभ्यर्थियों को रोजगार उपलब्ध करवाया जा चुका है। सीईजी के जरिए राज्य के अभियांत्रिकी पाठ्यक्रमों से पास होने वाले विद्यार्थियों को गेट प्रशिक्षण प्रदान करने हेतु पोर्टल विकसित किया जा रहा है, उसका भी जल्द शुभारंभ किया जाएगा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned