corona test- हर दिन 25 हजार से भी कम हुई जांचें, बढ़े कोरोना मरीज

Every day less than 25 thousand tests were conducted- राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या दिन ब दिन बढ़ती जा रही है, लेकिन इसकी तुलना जांच संख्या कम कर दी गई है। अगस्त में दिए एक बयान में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री ने खुद कहा था कि हर दिन 35 से 40 हजार जांचें होने की बात कही थी, वहीं चिकित्सा मंत्री ने जांच क्षमता बढ़ाकर 50 हजार प्रतिदिन करने का दावा भी किया गया था।

By: Tasneem Khan

Published: 28 Nov 2020, 05:25 PM IST

Every day less than 25 thousand tests were conducted-

Jaipur राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या दिन ब दिन बढ़ती जा रही है, लेकिन इसकी तुलना जांच संख्या कम कर दी गई है। अगस्त में दिए एक बयान में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री ने खुद कहा था कि हर दिन 35 से 40 हजार जांचें होने की बात कही थी, वहीं चिकित्सा मंत्री ने जांच क्षमता बढ़ाकर 50 हजार प्रतिदिन करने का दावा भी किया गया था। जबकि इस महीने हर दिन का औसत 25 हजार प्रतिदिन जांच से भी कम दर्ज किया गया है। कोरोना जांच में कमी से कितने ही मरीज ऐसे हैं, जो बिना दर्ज हुए ही रह गए। यदि जांचें अधिक होती तो मरीजों का आंकड़ा और भी ज्यादा हो सकता था। राजस्थान में अभी हाल यह है कि पिछले साल दिनों से हर दिन 3 हजार से ज्यादा कोरोना संक्रमित मरीज मिल रहे हैं। हालात यह है कि सिर्फ 7 दिनों में 22317 नए कोरोना संक्रमितों की पुष्टि की गई है। यह अब तक की सबसे बड़ी संख्या है और बीता सप्ताह संक्रमण की दर अब तक की सबसे तेज दर रही है।


प्रतिदिन औसत 24 हजार 665 जांच ही हुई

शनिवार 21 नवंबर से राज्य में मरीजों का आंकड़ा 3 हजार पार रहा है। इसी दिन से अब तक सात दिनों में 1 लाख 72 हजार 658 लोगों की कोरोना जांच हुई है। इनमें से 22317 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इन जांचों का औसत निकालें तो हर दिन सिर्फ 24 हजार 665 लोगों की कोरोना जांच ही राज्य में हुई है। यहां पर 50 हजार प्रतिदिन जांच क्षमता विकसित करने के सारे सरकारी दावे फेल होते नजर आ रहे हैं।

एक्टिव केस भी बढ़े
इसी सप्ताह राज्य के अस्पतालों पर कोरोना मरीजों का भार भी बढ़ा। इन 7 दिनों में सर्वाधिक एक्टिव केस दर्ज किए गए हैं। शनिवार 21 नवंबर को राज्य में एक्टिव केस 21951 थे, जो शुक्रवार 27 नवंबर तक 28183 हो गए। यानी 7 दिनों में एक्टिव केस 7 हजार तक बढ़ गए। जबकि रिकवरी रेट स्थिर है और हर दिन 2 हजार से ज्यादा लोग रिकवर होकर संक्रमण से मुक्त हो रहे हैं। उसके बाद भी एक्टिव केस में बढ़ोतरी ने राज्यभर की चिकित्सा व्यवस्थाओं पर असर डाला है। संक्रमण की तुलना में रिकवरी रेट नहीं बढ़ी है।

Corona virus
Tasneem Khan Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned