अगली बार फिर सीएम बनने के गहलोत के बयान पर पूर्व मंत्री का पलटवार, 'विधायक दल की बैठक में तय होता है नाम'

-पूर्व मंत्री राजेंद्र चौधरी ने कहा, पहले मुख्यमंत्री घोषित करने की कांग्रेस की परंपरा नहीं है, विधायक दल की बैठक में तय होता है मुख्यमंत्री का नाम

By: firoz shaifi

Published: 08 Oct 2021, 07:35 PM IST

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की ओर से खुद को अगला मुख्यमंत्री घोषित करने और यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल को चौथी बार यही विभाग देने के गहलोत के बयान पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट के बाद अब पूर्व मंत्री राजेंद्र चौधरी ने भी पलटवार किया है। राजेंद्र चौधरी ने कहा कि कांग्रेस में किसी को भी पहले से मुख्यमंत्री घोषित करने की परंपरा नहीं है। मुख्यमंत्री का चुनाव विधायक दल की बैठक में होता है।


चौधरी ने शुक्रवार को प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत शतायु हों, ऐसी उनकी ईश्वर से कामना है, लेकिन उनका बयान कांग्रेस परंपरा के खिलाफ है।

कांग्रेस में सभी निर्वाचित विधायक विधायक दल का नेता चुनते हैं या फिर सभी विधायक अपना फैसला कांग्रेस आलाकमान पर छोड़ते हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश के विधानसभा चुनाव में भी 2 साल का समय है। इस तरह की बयानबाजी से पार्टी को नुकसान होगा। राजेंद्र चौधरी ने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पांच बार लोकसभा सांसद, तीन बार केंद्रीय मंत्री, तीन बार पीसीसी चीफ और तीसरी बार मुख्यमंत्री बने हैं। ऐसे में उन्हें बयान सोच समझ कर देना चाहिए। जनता में भी उनके इस बयान पर तीखी प्रतिक्रिया हो रही है।

पायलट ने भी साधा निशाना
वहीं मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के 15 से 20 साल तक कुछ नहीं होने वाले बयान और अगली बार फिर से सीएम बनने के गहलोत के बयान पर पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने भी निशाना साधते हुए कहा था कि लोकतंत्र में हमेशा अनिश्चितता होती है, लेकिन जिन लोगों में यह घमंड और अहंकार आ जाता है कि हम जीवन के अंतिम पड़ाव तक सत्ता में बैठे रहेंगे। यह सोच गलत है।

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 2 अक्टूबर को प्रशासन शहरों के संग और गांवों के संग अभियान की लॉन्चिंग के दौरान कहा था कि राजस्थान में सरकार पूरे पांच साल चलेगी और अगली बार फिर कांग्रेस की सरकार बनेगी। मैं चौथी बार शांति धारीवाल को यूडीएच का मंत्री बनाऊंगा। गहलोत ने कहा था कि उन्हें15- 20 साल तक कुछ नहीं होने वाला। फिर भी को तकलीफ हो तो उसका इलाज मेरे पास नहीं है।

firoz shaifi
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned