'गुआ शा' से फेशियल ट्रीटमेंट

यह टूल स्किन में ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाकर झुर्रियों को दूर करता है

By: Kiran Kaur

Published: 17 Jun 2020, 05:25 PM IST

ब्यूटी वर्ल्ड में इन दिनों एक नया फेशियल ट्रीटमेंट छाया हुआ है 'गुआ शा'। एक्सपर्ट के अनुसार यह स्किन को रिलेक्स करने, झुर्रियों को दूर करने और त्वचा को जवां बनाए रखने में मदद करता है। इस फेशियल ट्रीटमेंट में फ्लैट जेड या रोज क्वार्ट्ज स्टोन (एक लोकप्रिय आभूषण रत्न जिसे लव स्टोन या बोहेमियन रूबी के रूप में भी जाना जाता है) का प्रयोग अपवर्ड स्ट्रोक के लिए किया जाता है ताकि सख्त मांसपेशियों को आराम मिलने से त्वचा में निखार आए।
झुर्रियों और डार्क सर्किल से बचाता 'गुआ शा': गुआ शा ट्रीटमेंट लिंफेटिक फ्लूइड को मूव कराकर मांसपेशियों के तनाव को कम करता है जिससे रक्त के प्रवाह में सुधार होता है। विशेषज्ञों के अनुसार समय से पहले बूढ़े होने के संकेतों जैसे झुर्रियों के अलावा यह आंखों के नीचे आए काले घेरों को दूर करता है। साथ ही मुरझाई त्वचा में निखार लाता है जिससे स्किन फ्रेश नजर आती है।
स्टोन का आकार : टियर के आकार के गुआ शा टूल को ज्यादा बेहतर माना जाता है क्योंकि इसकी ग्रिप अच्छी होती है लेकिन अगर जॉ लाइन पर फोकस करना है तो स्क्वायर शेप का स्टोन बढि़य़ा होगा।
त्वचा दिखेगी फ्रेश : गुआ शा असल में एक टूल है जिसे हफ्ते में दो से तीन बार प्रयोग किया जा सकता है। सुबह के समय इसका इस्तेमाल करने से चेहरे की पफीनेस दूर होकर त्वचा फ्रेश नजर आती है।
मसाज के दौरान फ्लैट रखा जाता है टूल: बेहतर रिजल्ट के लिए गुआ शा का प्रयोग चेहरे के किसी एक भाग पर कम से कम तीन बार किया जाता है और अधिकतम 10 बार। ट्रीटमेंट के दौरान टूल को चेहरे पर फ्लैट रखा जाता है न कि इसके एजेज को। अगर स्किन पर रूखापन लगता है तो अधिक ऑयल लगाया जाता है ताकि स्टोन अच्छी तरह से अपवर्ड मूव कर सके।
मसाज की खास प्रक्रिया : ट्रीटमेंट में सबसे पहले चेहरे पर फेशियल मिस्ट का स्प्रे किया जाता है। उसके बाद ऑयल लगाकर चेहरे की मसाज होती है। फिर गर्दन से शुरू कर फोरहेड की ओर अपवर्ड और आउटवर्ड स्ट्रोक किए जाते हैं। इसमें पूरे चेहरे को शामिल किया जाता है।

Kiran Kaur Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned