Fact Check : दीपिका और मेघना गुलजार से लक्ष्मी अग्रवाल के नाराज की पोस्ट वायरल

सोशल मीडिया पर एसिड सर्वाइवर लक्ष्मी के नाम से पोस्ट वायरल, पोस्ट में दीपिका और मेघना से नाराजगी का दावा, पोस्ट में एसिड फेंकने वाले का नाम बदलने का दावा किया गया, जानें इस वायरल पोस्ट की पूरी सच्चाई...

जयपुर। सोशल मीडिया पर किसी फोटो और वीडियो के साथ छेड़छाड़ कर उसे वायरल किया जाता रहता है। वहीं किसी पुरानी फोटो और वीडियो को नया बताकर भी उसे शेयर किया जाता है। कई बार सच्चाई कोसों दूर होती है, लेकिन सोशल मीडिया पर लोग बिना सच जाने उसे वायरल करते रहते हैं। एसिड अटैक सर्वाइवर के जीवन पर आधारित फिल्म 'छपाक' रिलीज हो गई है। कई लोग इस फिल्म का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं, वहीं इस फिल्म पर कंट्रोवर्सी भी बहुत हुई। दीपिका पादुकोण के जेएनयू में जाने पर उनकी जहां आलोचना की गई, वहीं फिल्म में एसिड फेंकने वाले के नाम पर भी भ्रम होता रहा। ये फिल्म कई दिनों से किसी न किसी वजह से सुर्खियों में भी बनी हुई है। इस फिल्म को लेकर कई दावे सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं, जिनमें से कई गलत भी साबित हो रहे हैं। ऐसा ही एक और दावा सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है कि एसिड अटैक सर्वाइवर लक्ष्मी अग्रवाल फिल्म 'छपाक' में उनका किरदार निभा रहीं दीपिका पादुकोण और डायरेक्टर मेघना गुलजार से नाराज हैं.
राजस्थान पत्रिका की फैक्ट चैक टीम ने इस वायरल मैसेज के पीछे का सच जाना।

जांच
सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल हो रही है, जिसमें लक्ष्मी अग्रवाल की तस्वीर के साथ लिखा गया है, 'मेरे ऊपर तेजाब फेंकनेवाले का नाम नईम खान है, लेकिन छपाक फिल्म में उस एसिड हमलावर का नाम बदल कर राजेश कर दिया गया है। दीपिका और मेघना गुलजार ने ये बात मुझसे क्यों छिपाई? - लक्ष्मी अग्रवाल'
सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा लक्ष्मी अग्रवाल का ये बयान पूरी तरह से गलत है, क्योंकि फिल्म 'छपाक' में एसिड फेंकने वाले का धर्म नहीं बदला गया है। दरअसल हाल ही में ये खबर फैलाई गई थी कि फिल्म 'छपाक' में एसिड फेंकने वाले का नाम नईम से राजेश कर दिया गया है, यानी उसका धर्म ही बदल दिया गया है। इसके बाद फिल्म की काफी आलोचना हुई, लेकिन फिल्म की स्क्रीनिंग और शो आने के बाद लोगों को पता चला कि असल फिल्म में राजेश नाम एसिड अटैक सर्वाइवर के बॉयफे्रं ड का है और एसिड फेंकने वाले का नाम नहीं बदला गया है.
वहीं कई वेबसाइट्स पर खबर छपी थी जिसमें साफ तौर पर लिखा था कि फिल्म में एसिड अटैक सर्वाइवर का नाम लक्ष्मी अग्रवाल से बदलकर मालती और एसिड फेंकने वाले का नाम नदीम से बदलकर 'बब्बू' उर्फ 'बशीर खान' कर दिया गया है। यानी उसका धर्म नहीं बदला गया है। इसके अलावा लक्ष्मी अग्रवाल का सोशल मीडिया अकाउंट्स देखने पर भी उनकी तरफ से दिया गया ऐसा कोई बयान नहीं मिला और न हीं इसे लेकर कोई खबर मिली. ऐसे में ये साफ हो जाता है कि सोशल मीडिया पर लक्ष्मी अग्रवाल के नाम से वायरल हो रहा ये बयान गलत है।

सच
राजस्थान पत्रिका की फैक्ट चैक टीम ने इस वायरल मैसेज के पीछे का सच जाना तो पता चला कि फिल्म में राजेश नाम एसिड अटैक सर्वाइवर के बॉयफे्रं ड का है और एसिड फेंकने वाले का नाम नहीं बदला गया है। फिल्म में एसिड अटैक सर्वाइवर का नाम लक्ष्मी अग्रवाल से बदलकर मालती और एसिड फेंकने वाले का नाम नदीम से बदलकर 'बब्बू' उर्फ 'बशीर खान' कर दिया गया है। यानी उसका धर्म नहीं बदला गया है।

Gaurav Mayank
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned