कच्चे तेल में केमिकल मिलाकर नकली डीजल बनाने का खेल, एक करोड़ रुपए का नकली डीजल जब्त

गुजरात के बंदरगाह से कच्चा तेल जयपुर लाकर मिलावटी डीजल तैयार करने वाले गिरोह का पुलिस ने पर्दाफाश किया है।

By: santosh

Published: 30 Dec 2020, 03:25 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
जयपुर।
गुजरात के बंदरगाह से कच्चा तेल जयपुर लाकर मिलावटी डीजल तैयार करने वाले गिरोह का पुलिस ने पर्दाफाश किया है। दिल्ली-मुम्बई नेशनल हाईवे पर मिलावटी डीजल सप्लाई करने वाले गिरोह को पकड़ते हुए जयपुर ग्रामीण, जयपुर कमिश्नरेट और अजमेर पुलिस ने तीन जगह पर कार्रवाई कर टैंकर चालक सहित आठ लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरोह के सरगना और गोदामों के मालिक फरार हो गए है जिनकी पुलिस तलाश कर रही है। पुलिस ने तीनों जगह से 1.30 लाख लीटर मिलावटी डीजल और केमिकल बरामद किया है। इसका बाजार मूल्य करीब एक करोड़ रुपए बताई जा रही है।

जयपुर रेंज आईजी एस सेंगाथिर ने बताया कि 28 दिसंबर को मुखबिर से सूचना मिली कि एक टैंकर से मिलावटी डीजल सप्लाई किया जा रहा है। सूचना पर पूरे जिले की टीमों को अलर्ट करके दूदू के पास जयपुर से नसीराबाद की तरफ जा रहे टैंकर को रुकवाया गया। इसमें 20 हजार लीटर डीजल भरा हुआ था। टैंकर चालक नागौर के डीडवाना निवासी महबूब अली को पकड़कर पूछताछ की।

पुलिस अधीक्षक ग्रामीण शंकर दत्त शर्मा ने बताया कि पूछताछ में टैंकर चालक ने बताया कि वह वीकेआई से टैंकर भरकर नसीराबाद के लवेरा स्थित दीपक मोटर गैराज लेकर जा रहा है। उसके बाद जयपुर कमिश्नरेट के वीकेआई और अजमेर पुलिस को सूचना दी गई। जहां से भारी मात्रा में नकली डीजल और कैमिकल बरामद किया गया। प्राथमिक जांच में सामने आया कि आरोपी ओमान और सऊदी अरब से आने वाले कच्चे तेल को गुजरात के बंदरगाह से निकलवाकर जयपुर के वीकेआई और नसीराबाद ले आते हैं। यहां पर केमिकल मिलाकर नकली डीजल तैयार करने के बाद इंडस्ट्रीयल एरिया में सप्लाई करते हैं। इस गिरोह से जुड़े अन्य सदस्यों के बारे में जांच की जांच की जा रही है।

अग्निशमन उपकरण भी नहीं रखे मिले
एसीपी चौंमू राजेंद्र निर्वाण के नेतृत्व में टीम ने हनुमान नगर जैसल्या विश्वकर्मा में कार्रवाई की गई। यहां पर मेट्रो केमिकल्स के नाम से चल रहे गोदाम पर छापेमारी की गई। पुलिस ने देवेन्द्र अग्रवाल और देवीलाल के नाम से संचालित गोदाम में दबिश देकर वहां काम कर रहे नीम का थाना सीकर निवासी अजीत तंवर, चांदपोल बाजार निवासी शाकिर, झुंझुनूं के मलसीसर निवासी मनोज और बाड़मेर के चौहटन निवासी गणपत को पकड़ा। यहां पर पांच खंड का एक टैंकर जिसके दो खंडों में सोलवेंट भरा हुआ था।

200 लीटर वाले 138 ड्रम मिक्स्ड सोलवेंट से भरे हुए। 60 ड्रम कैमिकल से भरे हुए। मोटर, दो माप यंत्र, गेज सहित अन्य कैमिकल व उपकरण बरामद कर लिए। पुलिस को हिसाब की डायरियां मिली है। मौके पर रसद विभाग की टीम को भी बुलाया गया। भारी मात्रा में ज्वलनशील कैमिकल होने के बाद भी किसी तरह के अग्निशमन के उपकरण नहीं रखे गए थे। पुलिस ने मानवजीवन खतरे में डालने, आईपीसी की धारा में मामला दर्ज किया है। फरार गोदाम मालिकों की तलाश की जा रही है।

मोटर गैराज में दी दबिश
नसीराबाद के लवेरा गांव के दीपक मोटर गैराज में दबिश देकर वहां काम करे रहे सांगानेर जयपुर निवासी सौरभ जैन, रामनगरिया निवासी रामेश्वर उर्फ रिंकू और यूपी के आगरा निवासी जवाहर सिंह को पकड़ा। मौके से 55 हजार लीटर नकली डीजल, 200 से ज्यादा खाली ड्रम व अन्य उपकरण बरामद किए हैं। पुलिस ने करीब 1.30 लाख लीटर डीजल- कैमिकल बरामद किया है। जिसकी कीमत एक करोड़ रुपए बताई जा रही है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned