नकली खाद्य पदार्थों के बाद अब नकली मोटर हो रही तैयार

तैयार मोटरें भी जब्त की गई हैं जिनको उषा कंपनी की पैकिंग में पैक किया जा रहा था और उंचे दामों पर बेचा जाना था। बताया जा रहा है कि यह माल जयपुर के बाहरी कस्बों और गावों में भेजा जाना था। इस बारे में कंपनी के ही पदाधिकारियों ने पुलिस को सूचना दी थी और बाद में पुलिस ने कारखाना मालिक मोहन लाल सहित अन्य स्टाफ को पकडा।

By: JAYANT SHARMA

Published: 05 Sep 2020, 01:21 PM IST

जयपुर
एक्सपायरी और खराब खाद्य सामान की फिर से नई पैकिंग कर बेचने का बड़ा खेल शुक्रवार शाम ही जयपुर पुलिस ने पकडा, लेकिन इसके बाद अब नकली मोटर बनाने का कारखाना पकडा गया। राजधानी अब नकली सामान बनाने वालों की भी राजधानी बनती जा रही है। कुछ घंटे मे ही दो इस तरह के बड़े मामले सामने आने के बाद अब पुलिस अफसर भी सोच में पड गए हैं कि असली और नकली माल को किस तरह से पहचाना जाए।

भांकरोटा में एक कारखाने में शुक्रवार शाम पुलिस अफसरों की पूरी टीम ने बड़े स्तर पर खाद्य पदार्थो को नकली से असली बनाने का खेल पकड़ा, इसके कुछ देर बाद ही देर रात हरमाड़ा में हरमाड़ा पुलिस ने नकली इलेक्टिक उत्पाद बनाने का कारखाना पकडा। कारखाना मालिक समेत काम कर रहे स्टाफ को हिरासत में लिया गया है। जांच कर रही पुलिस ने बताया कि हरमाड़ा की मधु विहार कॉलोनी में ब्रांडेड कंपनी की नकली मोटर बनाने का काम चल रहा था।

चालीस तैयार मोटरें भी जब्त की गई हैं जिनको उषा कंपनी की पैकिंग में पैक किया जा रहा था और उंचे दामों पर बेचा जाना था। बताया जा रहा है कि यह माल जयपुर के बाहरी कस्बों और गावों में भेजा जाना था। इस बारे में कंपनी के ही पदाधिकारियों ने पुलिस को सूचना दी थी और बाद में पुलिस ने कारखाना मालिक मोहन लाल सहित अन्य स्टाफ को पकडा। कॉपीराइट एक्ट के तहत मामला दर्ज कर जांच की जा रही है।

JAYANT SHARMA Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned