जहां लोगों ने गड्ढे में समाधि लगाकर किया था अधिग्रहण का विरोध, वहां भारी जाब्ते के बीच सडक़ बना रहा जेडीए

Vijay ram

Publish: Nov, 15 2017 03:17:00 (IST)

Jaipur, Rajasthan, India

नींदड़ के किसानों में नाराजगी है, दूसरी ओर मंदिर माफी और सरकारी भूमि पर विकास कार्य करवाया जा रहा है... जेडीए बिना​ किसानों की सहमति के ही पुलिस बल के साथ ​सडक़ बनाने के लिए पहुंच गया, जबकि मंदिर माफी की जमीन पर मालिकाना हक को लेकर विवाद था।

1/2

जयपुर . किसानों की नाराजगी के बीच जयपुर विकास प्राधिकरण नींदड़ आवासीय योजना में सडक़ निर्माण करवा रहा है। जेडीए की टीम आज भी नींदड़ में सडक़ बनाने और जमीन समतल करने के काम में लगी है। किसानों की नाराजगी को देखते हुए पुलिस जाब्ता तैनात किया गया है। जेडीए अधिकारियों का कहना है कि शुरुआती दौर में मंदिर माफी और सरकारी भूमि पर विकास कार्य करवाया जा रहा है। किसानों से किया समझौता नहीं तोड़ा गया है।

 

Read News: 'धरतीपुत्रों' की सुन नहीं रही 'महारानी', जमीन जेडीए के कब्जे में जाएगी ही
गौरतलब है कि नींदड़ में विकास कार्य को लेकर किसानों और जेडीए के बीच विवाद हो गया था। इसके बाद पुलिस ने किसान आंदोलन से जुड़े 5 लोगों को गिरफ्तार कर लिया था, जो फिलहाल जेल में हैं। किसान जेडीए पर समझौते से मुकरने का आरोप लगा रहे हैं। किसानों का कहना है कि सरकार ने उनका आंदोलन खत्म करवाने के लिए समझौता किया, लेकिन अब उसी समझौते को खारिज करने की कोशिश हो रही है। जेडीए बिना किसानों की सहमति के ही पुलिस बल के साथ सडक़ बनाने के लिए पहुंच गया, जबकि मंदिर माफी की जमीन पर मालिकाना हक को लेकर विवाद था।

 

निम्स की ईमारत ढहाने की कवायद
जेडीए ने रामगढ़ बांध के बहाव क्षेत्र में आने वाली बिल्डिंग को ढहाने की योजना बनाना शुरू कर दिया है। जेडीए ने निम्स की ईमारत हटाने की कार्रवाई के लिए पुलिस जाब्ता मांगा है। जाब्ता मिलने के बाद यहां पर कार्रवाई की जाएगी। जेडीए निम्स की अवैध बिल्डिंग को गिराने के लिए डाइनामाइट से विस्फोट करने की योजना है।

 

Read News: पुरुष और महिलाओं के बाद अब बच्चे भी बैठे गड्ढों में, 11 दिन हो गए फिर भी कुछ नहीं हुआ तो 250 ने ली ये समाधि
नींदड़ आवासीय योजना में सडक़ निर्माण चल रहा है। निम्स की अवैध बिल्डिंग को हटाने की कार्रवाई जल्द ही की जाएगी। इसके लिए तैयारियां चल रही हैं। - राजेन्द्र सिंह सिसोदिया, मुख्य प्रवर्तन अधिकारी, जेडीए।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned