पिता ने प्रेमिका से मिलकर बच्चे को लावारिस हालत में छोड़ा

प्रेमिका के कहने पर छोड़ा था बेटे को

By: Lalit Tiwari

Updated: 26 Feb 2021, 08:19 PM IST

प्रेमिका की चाहत में डूबे एक पिता के अपने पांच वर्षीय लाडले बेटे को सुनसान जगह पर लावारिस हालत में छोड़ने का मामला सामने आया है। प्रेमिका ने अपने साथ रहने के लिए यह दबाव बनाया था। बुजुर्ग दादा की शिकायत पर दो माह से लापता बालक को सांगानेर सदर थाना पुलिस ने शुक्रवार को दस्तयाब किया है।
डीसीपी (साउथ) हरेन्द्र कुमार ने बताया कि टोडारायसिंह टोंक निवासी रामस्वरूप ने 25 फरवरी को सांगानेर सदर थाने में पांच वर्षीय पौत्र की गुमुशदर्गी दर्ज कराई। रिपोर्ट में बताया कि करीब दो माह पूर्व उसका बेटा मुकेश व साथी महिला मित्र उसके पांच वर्षीय पौत्र को गांव से लेकर जयपुर आए थे। मेरे जयपुर आने पर पता चला कि मेरा पौत्र उनके पास नहीं है।
पूछने पर कोई जबाव नहीं दे रहे है, संदेह है कि पौत्र को दास प्रवृति के लिए बेच दिया या कोई अप्रिय घटना कर दी है।
पिता-प्रेमिका को पकड़ा

मुहाना इलाके में कीरों की ढाणी में रहने वाले पिता मुकेश को पुलिस ने पकडक़र पूछताछ की। पुलिस को गुमराह करने पर सख्ती से पूछताछ करने पर बताया कि जोशीवाली ढाणी गांव लाखना में रहने वाली उसकी प्रेमिका उसके पास से पांच वर्षीय बेटे को अपने साथ लेकर गई थी। महिला मित्र तक पहुंची पुलिस ने पूछताछ शुरू की। पूछताछ में महिला मित्र भी पुलिस को गुमराह कर विभिन्न-विभिन्न स्थानों का नाम-पता बताती रही। सख्ती से पूछताछ में पांच वर्षीय बालक को 200 फीट बाईपास के आस-पास लावारिस हालत में छोडऩा बताया। जिसे
सुनकर पुलिस के एक बार को होश उड़ गए।
थड़ी-ठेलों वालों ने की मदद -

200 फीट बाईपास के आस-पास पांच वर्षीय बालक की तलाश में जुटी पुलिस को काफी प्रयास बाद भी सुराग नहीं लगा। वहां थड़ी-ठेलों वालों से पांच वर्षीय बालक के बारे में पूछा गया, जिन्होंने बताया कि करीब 2 माह पूर्व एक बालक लावारिस हालत में मिला था। जिसे श्याम नगर थाना पुलिस के सुपुर्द किया गया था। सांगानेर सदर थाने की टीम ने श्याम नगर पुलिस से संपर्क साधा। 29 दिसम्बर को लावारिस हालत में मिला बालक अपना नाम-पता बताने में भी असमर्थ था, जिसे चाईल्ड हेल्प लाईन अपना घर मानसरोवर के सुपुर्द किया गया था। पुलिस टीम ने तुरंत राजकीय शिशु गृह में संपर्क किया, जहां लापता बालक सकुशल मिला। जिसे उसके दादा के सुपुर्द किया गया।

Lalit Tiwari Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned