स्त्री विमर्श हटा देना चाहिए: लता शर्मा

स्त्री विमर्श हटा देना चाहिए: लता शर्मा

By: Rakhi Hajela

Published: 01 Mar 2020, 03:34 PM IST

स्त्री विमर्श हटा देना चाहिए: लता शर्मा
स्त्री विमर्श एक एेसा शब्द है जिसे हटा दिया जाना चाहिए। यह कहना है कि लेखिका लता शर्मा का, जिन्हें कुछ समय पूर्व राजस्थान पत्रिका की ओर से सृजनात्मक साहित्य की श्रेणी में कहानी लेखन के लिए पुरस्कृत किया गया था। उन्हें पत्रिका की ओर से उनकी कहानी 'सन्नाटाÓ के लिए पुरस्कृत किया गया। लता कहती हैं कि स्त्री विमर्श यानी स्त्री के दुख दर्द की कहानी अन्य साहित्यकारों ने भी लिखी हैं। कई साहित्य कारों ने नायिकाओं के बारे में कहानी लिखी है लेकिन हमारे यहां शायद परम्परा है कि हमने दोनों को अलग अलग कर दिया है। अपनी कहानी सन्नाटा के बारे में वह कहती हैं कि यह कहानी हाशिए पर खदेड़े जा रहे बुजुर्गों की कहानी है। बुजुर्गों को यह लगने लगता है कि उन्हें अपने परिवार के पास ही उनके लिए समय नहीं है। लता को इससे पूर्व भारतेंदु पुरस्कार से भी सम्मानित किया जा चुका है।

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned