.महिला सदन में आज गूंजेंगी शहनाई

—12 आवासनियां बंधेंगी परिणय सूत्र में

By: Teena Bairagi

Published: 20 Jul 2018, 10:21 AM IST

—दोपहर 3 बजे होगा पाणिग्रहण संस्कार
जयपुर
अपनों से दूर और पराए साए में पली बड़ी महिला सदन की बेटियां आज विवाह बंधन में बंधने जा रही है। पिया के घर आंगन में जाने की खुशी इनके चेहरे पर साफ झलक रही है। बस इन्हें इंतजार है बारात आने का और डोली उठने का। आज पूरा सदन फूलों और लाइट की रोशनी से सजा हुआ है। इस नजारे को देखने के लिए सिर्फ विभाग के आला अफसर व कर्मचारी शामिल हो रहे हैं बल्कि इन बेटियों का कन्यादान करने के लिए भामाशाह भी आएंगे।


सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग की ओर से इस वर्ष 12 बेटियों को विवाह योग्य मानते हुए शादी कराए जाने का फैसला लिया गया है। इनमें 10 बेटियां जयपुर के प्रतापनगर स्थित महिला सदन से है। जबकि 1—1 बेटी उदयपुर व जोधपुर से है। पिछले चार दिनों से विवाह की तैयारी की जा रही है। कल शाम को महिला संगीत और मेंहदी रस्म का आयोजन किया गया था। सदन में रहने वाली बाकी बेटियों ने विवाह बंधन में बंधने जा रही इन बेटियों के हाथों पर न सिर्फ मेंहदी लगाई बल्कि उन्हें कई फिल्मी गानों पर नचाया भी। हालांकि इस दौरान कई बार भावुक क्षण भी आए जब बेटियों की आंखों में खुशी व अपनों की याद में आंसू दिखे।

 

द्वारे पर आएगी बारात—
दोपहर साढ़े बारह बजे महिला सदन के द्वारे पर 12 दुल्हें एक साथ बारात लेकर पहुंचेंगे। यहां पर उनके स्वागत के लिए विभाग के अधिकारी होंगे। बकायदा दुल्हों को रिती रिवाज के तहत तोरण मारकर मंडप तक लाया जाएगा।

 

फेरे के बाद शाम को होगी विदाई—
दोपहर 3 बजे विवाह की रस्में पूरी की जाएगी। वर—वधु फेरे लेकर पूरे जीवन भर साथ रहने का वचन लेंगे। इसी दौरान बेटियों के कन्यादान में उपहार स्वरुप गृहस्थी चलाने के जिए जरुरी सामान भेंट किए जाएंगे।

 

विवाह में शामिल होंगे ये गणमान्य—
विभाग के निदेशक डॉ. समित शर्मा ने बताया कि वर—वधु को आशीर्वाद देने के लिए विभाग के मंत्री डॉ. अरुण चतुर्वेदी, मुख्य सचिव डीबी गुप्ता, अतिरिक्त मुख्य सचिव जेसी मोहंती सहित अन्य विभागों के अधिकारी व जनप्रतिनिधी व विभिन्न सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधी और भामाशाह पहुंचेंगे।

Teena Bairagi Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned