scriptFinancial advice: E-nomination is a must in deposit and insurance sch | वित्तीय सलाह: जमा और बीमा योजनाओं में जरूरी है ई-नॉमिनेशन | Patrika News

वित्तीय सलाह: जमा और बीमा योजनाओं में जरूरी है ई-नॉमिनेशन

किसी भी बचत योजना खाते के मामले में नॉमिनेशन जरूरी है। इससे खाताधारक की मृत्यु के बाद पैसा उस व्यक्ति को मिल जाता है, जिसे खाताधारक देना चाहता हो। सरकार ने अब किसी भी खाताधारक के निधन की स्थिति में प्रोविडेंट फंड, पेंशन, बीमा लाभ मामले में ऑनलाइन दावा निपटारे के लिए ई-नॉमिनेशन जरूरी कर दिया है। अगर प्रोविडेंट फंड अकाउंट में ई-नॉमिनेशन नहीं हुआ है, तो आप अपना पीएफ बैलेंस चेक नहीं कर सकेंगे। इसे वहीं खाताधारक कर सकते हैं, जिनका यूएएन एक्टिव है। मोबाइल नंबर आधार से लिंक्ड है।

जयपुर

Published: June 26, 2022 06:33:02 pm

किसी भी बचत योजना खाते के मामले में नॉमिनेशन जरूरी है। इससे खाताधारक की मृत्यु के बाद पैसा उस व्यक्ति को मिल जाता है, जिसे खाताधारक देना चाहता हो। सरकार ने अब किसी भी खाताधारक के निधन की स्थिति में प्रोविडेंट फंड, पेंशन, बीमा लाभ मामले में ऑनलाइन दावा निपटारे के लिए ई-नॉमिनेशन जरूरी कर दिया है। अगर प्रोविडेंट फंड अकाउंट में ई-नॉमिनेशन नहीं हुआ है, तो आप अपना पीएफ बैलेंस चेक नहीं कर सकेंगे। इसे वहीं खाताधारक कर सकते हैं, जिनका यूएएन एक्टिव है। मोबाइल नंबर आधार से लिंक्ड है।

epfo85.jpg

नॉमिनी नहीं बनाया तो होगी परेशानी

अगर पीएफ खाताधारक ने नॉमिनी ऐड नहीं किया है तो उसे कई परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। नॉमिनी ऐड नहीं करने पर पीएफ अकाउंट से पैसे निकालना मुश्किल हो जाएगा। ऐसे मामलों में पीएफ खाताधारक सिर्फ मेडिकल जरूरतों के लिए ही पैसे निकाल पाएंगे। किसी भी अन्य काम के लिए ऐसे खाताधारक पीएफ अकाउंट से निकासी नहीं कर सकेंगे। अगर आप चाहते हैं कि आप आकस्मिक जरूरत के समय पीएफ खाते से बिना किसी परेशानी के पैसे निकाल सकें तो इसके लिए जल्द ई-नॉमिनेशन कर लें। साथ ही ईपीएफओ ने यह भी सुविधा दी है कि खाताधारक जितनी बार चाहे, नॉमिनी को बदल सकता है।

ईपीएफ से लाभ

यह लंबे समय के लिए पैसे बचाने में मदद करता है। एकल, एकमुश्त निवेश करने की कोई आवश्यकता नहीं है। कर्मचारी के वेतन से मासिक आधार पर कटौती की जाती है और यह लंबी अवधि में बड़ी राशि बचाने में मदद करता है। यह इमरजेंसी में कर्मचारी की आर्थिक मदद कर सकता है। यह सेवानिवृत्ति के समय पैसे बचाने में मदद करता है और एक व्यक्ति को एक अच्छी जीवन शैली बनाए रखने में मदद करता है।

यह कहता है नियम

इसमें खाताधारक परिवार के सदस्यों के साथ ही दूसरे व्यक्ति को भी नॉमिनेट करने की छूट है, पर परिवार का पता चलने पर गैर परिजन का नॉमिनेशन रद्द होगा। नॉमिनी का उल्लेख नहीं किया है तो कर्मचारी के निधन पर उसके उत्तराधिकारी को पीएफ जारी करने के लिए उत्तराधिकार प्रमाण पत्र आदि के लिए सिविल कोर्ट जाना पड़ेगा। इसमें एक से ज्यादा नॉमिनी भी जोड़ सकते हैं।

परिवार को मिला है सुरक्षा कवर

ई-नॉमिनेशन करने पर परिवार को भी सुरक्षा कवर मिलता है। अगर कोई हादसा होता है तो आपके नॉमिनी पीएफ का पैसा क्लेम कर सकते हैं, इससे उन्हें वित्तीय सुरक्षा मिलेगी। परिवार के लोगों को नॉमिनी बनाकर रखने से उन्हें बीमा और पेंशन जैसी सुरक्षाएं मिल जाती हैं।

सोशल सिक्योरिटी का नहीं मिलेगा लाभ

ईपीएफओ प्रॉविडेंट फंड के अलावा भी अपने सब्सक्राइबर्स को कुछ अन्य सोशल सिक्योरिटी प्रदान करता है। इनमें एम्पलॉई पेंशन स्कीम और एम्पलॉई डिपॉजिट लिंक्ड इंश्योरेंस स्कीम प्रमुख है। अगर आप ई-नॉमिनेशन नहीं करते हैं तो आपको इन दो सुविधाओं का भी लाभ नहीं मिलेगा।

ई-नॉमिनेशन के लिए ये है जरूरी

इसके लिए आधार नंबर, निवास प्रमाण, बर्थ सर्टिफिकेट, मोबाइल नंबर, बैंक एकाउंट और नॉमिनी के स्कैन फोटो पोर्टल पर अपलोड करनी होती है। मान लीजिए नॉमिनी नाबालिग है, तो उसके पैरेन्ट्स का नाम और पता देना पड़ता है। नॉमिनी के हस्ताक्षर या उसके अंगूठे का निशान देना जरूरी होता है।

newsletter

Anand Mani Tripathi

आनंद मणि त्रिपाठी (@aanandmani) राजनीति, अपराध, विदेश, रक्षा एवं सामरिक मामलों के पत्रकार हैं। पत्रकारिता के तीनों माध्यम प्रिंट, टीवी और आनलाइन में गहरा और अपनी तेज तर्रार रिपोर्टिंग के लिए जाने जाते हैं। पश्चिम बंगाल के कलकत्ता में जन्म हुआ। प्रारंभिक शिक्षा उत्तर प्रदेश के कानपुर और बस्ती में हुई। माध्यमिक शिक्षा नवोदय विद्यालय बस्ती, फैजाबाद और पूर्वोत्तर त्रिपुरा के धलाई जिले में हुई। अयोध्या के साकेत महाविद्यालय से स्नातक और 2009 में जेआईआईएमसी,दिल्ली से पत्रकारिता का डिप्लोमा किया। हरियाणा से पत्रकारिता आरंभ की। शिक्षा, विज्ञान, मौसम, रेलवे, प्रशासन, कृषि विभाग और मंत्रालय की रिपोर्टिंग की। इंवेस्टिगेटिव रिपोर्टिंग से शिक्षा और रेलवे विभाग के कई भ्रष्टाचार का खुलासा किया। रक्षा मंत्रालय के रक्षा संवाददाता पाठयक्रम-2016 पूरा किया। इसके बाद रक्षा मामलों की पत्रकारिता शुरू कर दी। चीन, पाकिस्तान और कश्मीर मामलों पर तीक्ष्ण नजर रहती है। लेफ्टिनेंट उमर फैयाज की हत्या 2017, राइफलमैन औरंगजेब की हत्या 2018, जम्मू—कश्मीर में बदले 2018 में बदले राजनीतिक समीकरण, पुलवामा हमला 2019, कश्मीर से 370 का हटना, गलवान घाटी मुठभेड़ 2020 को बेहद करीब से जम्मू और कश्मीर में रहकर ही कवर किया। कोरोना काल 2020 में भी लददाख से नेपाल तक की यात्रा चीन के बदलते समीकरण को लेकर की। इसके साथ ही लोकसभा चुनाव 2019 में जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और पंजाब की रिपोर्टिंग की। 9 नवंबर 2019 को श्रीराम जन्म भूमि अयोध्या मामले में आए फैसले की अयोध्या से कवर किया। 2022 उत्तरप्रदेश् चुनाव को सहारनपुर से सोनभद्र तक मोटर साइकिल के माध्यम से कवर किया। पत्रकारिता से इतर आनंद मणि त्रिपाठी को संगीत और पर्यटन का जबरदस्त शौक है। इन्हें किसी भी कार्य में असंभव शब्द न प्रयोग करने के लिए जाना जाता है...

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

बांदा में यमुना नदी में डूबी नाव, 20 के डूबने की आशंकाCM अरविंद केजरीवाल ने किया सवाल- 'मनरेगा, किसान, जवान… किसी के लिए पैसा नहीं, कहां गया केंद्र सरकार का धन'SCO समिट में पीएम मोदी के साथ पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की हो सकती है बैठकबिहारः 16 अगस्त को महागठबंधन सरकार का कैबिनेट विस्तार, 24 को फ्लोर टेस्ट, सुशील मोदी के दावे को नीतीश ने बताया बोगसझारखंड BJP ने बिहार के नए उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को गिफ्ट में भेजा पेन, कहा - '10 लाख नौकरी देने वाली फाइल पर इससे करें हस्ताक्षर'ममता बनर्जी को एक और झटका, अब पशु तस्करी केस में TMC नेता अनुब्रत मंडल को CBI ने किया गिरफ्तारCoal Scam: कोयला घोटाले मामले में ED ने पश्चिम बंगाल के 8 आईपीएस ऑफिसर को जारी किया समनजम्मू-कश्मीर के रामबन में लैंडस्लाइड व बादल फटने से दो लोगों की मौत, हिमाचल के कुल्लू में कई दुकानें बहीं
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.