ISIS के खिलाफ राजस्थान में पहली चार्जशीट जयपुर कोर्ट में होगी पेश !

ISIS के खिलाफ राजस्थान में पहली चार्जशीट जयपुर कोर्ट में होगी पेश !

एटीएस की कार्रवाई के बाद देश की सबसे बड़ी जांच एजेंसी एनआईए ने मामले की जांच करना शुरू किया था और सिराजुद्दीन को एनआईए ने अपने कब्जे में लेकर लंबी पूछताछ की की थी।

राजस्थान में इस्लामिक स्टेट के खिलाफ पहली चार्जशीट जयपुर कोर्ट में पेश की जा सकती है। एटीएस ने दस दिसंबर 2015 को जवाहर नगर से आईएस कैडर से युवाओं को जोडऩे के आरोप में मोहम्मद सिराजुद्दीन को पकड़ा था। एटीएस की कार्रवाई के बाद मामले की जांच एनआईए ने की थी। अब इस मामले पर चार जून को सुनवाई होनी है।  माना जा रहा है कि एनआईए की ओर से अदालत में चार्जशीट दाखिल की जाए।



दरअसल, एटीएस ने पिछले साल की 10 दिसंबर को जवाहर नगर इलाके से आईएस मोड्यूल का खुलासा करते हुए सिराजुद्दीन को पकड़ा था। एटीएस ने दावा किया था कि पूरी दुनिया में आंतक का पर्याय बन चुके आईएस ने राजस्थान में दस्तक दी है। तब एटीएस ने सिराजुद्दीन को आईएस का कंमाडर बताते हुए युवाओं को भड़काने और आईएस में शामिल होने के लिए उकसाने का आरोप लगाया गया था। 



इसी दौरान एटीएस ने सोश्यल मीडिया व्हाट्स एप, ट्वीटर और फेसबुक के साथ टेलीग्राम से युवाओं में आईएस की विचारधारा को फैलाने जैसे आरोप लगाए थे। एटीएस की कार्रवाई के बाद देश की सबसे बड़ी जांच एजेंसी एनआईए ने मामले की जांच करना शुरू किया था और सिराजुद्दीन को एनआईए ने अपने कब्जे में लेकर लंबी पूछताछ की की थी। सिराजुद्दीन तभी से न्यायिक हिरासत में सेंट्रल जेल में बंद है। 



कानून के मुताबिक एनआईए को 180 दिन में चार्जशीट दाखिल करनी रहती है। इस मामले में यह अवधि 10 जून को समाप्त हो जाएगी और इससे पहले एनआईए को अदालत में चार्जशीट दाखिल करनी है। मामले पर 4 जून को सीबीआई की विशेष कोर्ट में सुनवाई होनी है जिसमें चार्जशीट दाखिल करने की तैयारी है।



सोश्यल मीडिया को बनाया माध्यम

एटीएस ने कार्रवाई के दौरान दावा किया था कि जयपुर में सिराजुद्दीन ने कई व्हाट्स ग्रुप बनाएं है जिस पर उसने धर्म विशेष के लोगों को जोड़ रखा है। इस ग्रुप में देश विरोधी गतिविधियों को हवा दी जा रही है।  इसी के साथ उसके लेपटॉप से भी इस संबंध में लिट्रचर, साइटस सहित दूसरा रिकार्ड जप्त करते हुए साहित्य भी बरामद किया था। मामला सामने आने के बाद पूरे देश में चर्चा शुरू हो गई थी और इसकी बड़े स्तर पर जांच हुई थी। 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned