मेघों की मेहरबानी से माउंट आबू में फिजा गुलजार

बारिश का लुत्फ लेने बड़ी संख्या में पहुंच रहे सैलानी, राज्य के एकलौते टूरिस्ट स्पॉट पर लौटने लगी पर्यटन की रंगत

By: Amit Pareek

Published: 26 Aug 2020, 06:44 PM IST

Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

सिरोही. माउंट आबू में मेघ क्या मेहरबान हुए यहां की फिजा ही गुलजार हो गई। पिछले कई दिन से पहाड़ों पर हो रही बारिश का लुत्फ लेने बड़ी संख्या में पर्यटक राज्य के एकलौते टूरिस्ट स्पॉट पर पहुंच रहे हैं। सैलानियों की बढ़ती आवाजाही से पर्यटन के अच्छे दिन लौटते प्रतीत हो रहे हैं। पिछले चौबीस घंटे की बात करें तो माउंट आबू में सवा चार इंच बारिश हो चुकी है। मौसम विभाग के अनुसार आबूरोड में 15 मिलीमीटर व माउंट आबू में 108 मिलीमीटर बारिश की गई दर्ज की गई। इसी बारिश में सैर सपाटे का आनंद लेने यहां बड़ी संख्या में सैलानी पहुंच रहे हैं। पर्यटकों की बढ़ती संख्या से लगने लगा है मानो यहां कोरोना का भी डर समाप्त हो गया है।
बताया जा रहा है कि माउंट आबू में पिछले कुछ दिनों से अच्छी बरसात हो रही है। पहाड़ों पर झरने बह निकले हैं। आसमां से उतर बादलों ने आबू में अपना डेरा जमा लिया है। लगता है घने कोहरे ने सैलानियों के स्वर्ग को अपने में छिपा लिया हो। अरावली की पहाड़ों ने हरियाली की चुनरी ओढ़ ली है। खुशनुमा मौसम के बीच पर्यटकों की संख्या भी बढ़ने लगी है। एक तरफ जहां देश के अन्य टूरिस्ट स्पॉट कोरोना महामारी के कारण सूने पड़े हैं वहीं मानसून की मेहरबानी के बाद माउंट आबू के पहाड़ों पर रौनक लौटती दिख रही है। राज्य के अलग-अलग हिस्सों व गुजरात से आने वाले पर्यटकों ने नक्की झील, दिलवाड़ा जैन मंदिर, गोमुख मंदिर, गुरु शिखर, सनसैट प्वॉइंट, टॉड रॉक, मुख्य बाजार को चमन कर दिया है।
बारिश का लुत्फ लेने पहुंच रहे पर्यटकों के कारण माउंट आबू नगर पालिका को भी आय होने लगी है। फुटकर व्यवसायी, होटल, रेस्टोरेंट,गेस्ट हाउस मंदी की मार झेल रहे थे वे भी मानसून में आबाद हो चले हैं। माना जा रहा है कि अगर यही आलम रहा तो दिवाली तक माउंट आबू का पर्यटन व्यवसाय काफी हद तक पटरी पर लौट सकता है। बारिश में सैलानियों की आवक यकीनन पर्यटन व्यवसाय के लिए अच्छा संकेत है।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned