खाद्यान्न बफर स्टॉक 752 लाख टन, सभी आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए पर्याप्त

नई दिल्ली। केंद्र के पास 27 मई तक बफर स्टॉक ( buffer stock ) के रूप में लगभग 752 लाख टन खाद्यान्न ( foodgrains ) उपलब्ध है और यह स्टॉक कोविड-19 ( Kovid-19 ) संकट के समय मुफ्त वितरण के अलावा खाद्य कानून ( food law ) और विभिन्न अन्य कल्याणकारी योजनाओं ( welfare schemes ) के तहत आने वाली नियमित मांग को पूरा करने के लिहाज से पर्याप्त है। खाद्य मंत्री ( Food Minister ) राम विलास पासवान ने खाद्यान्न वितरण ( Food Corporation ) और खरीद पर भारतीय खाद्य निगम के क्षेत्रीय कार्यकारी निदेशकों और क्षेत्रीय म

By: Narendra Kumar Solanki

Published: 28 May 2020, 11:25 PM IST

उन्होंने कहा कि एफसीआई कार्यबल वैश्विक महामारी संकट के समय खाद्य योद्धाओं के रूप में उभरा है। प्रवासियों और फंसे प्रवासियों के लिए आत्मनिर्भर भारत पैकेज के तहत खाद्यान्न के आवंटन की समीक्षा करते हुए पासवान ने कहा कि केंद्र ने मई और जून महीनों के लिए 37 राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों को आठ लाख टन खाद्यान्न (2.44 लाख टन गेहूं और 5.56 लाख टन चावल) आवंटित किया है। एफसीआई के अनुसार, 27 मई तक राज्यों व केंद्रशासित प्रदेशों ने 2.06 लाख टन खाद्यान्न उठाया है। इस पैकेज के तहत, मई से जून के दौरान प्रत्येक प्रवासी श्रमिक को प्रति माह पांच किलोग्राम खाद्यान्न मुफ्त में वितरित किया जाएगा। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्ना योजना (पीएमजीकेएवाई) में केंद्र ने अप्रेल, मई और जून 2020 के महीनों के लिए 37 राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों को 120.04 लाख टन खाद्यान्न (15.65 लाख टन गेहूं और 104.4 लाख टन चावल) का आवंटन किया है। इसमें से 27 मई तक, राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों ने 95.80 लाख टन खाद्यान्न (15.6 लाख टन गेहूं और 83.38 लाख टन चावल) का उठाया है। पीएमजीकेएवाई के तहत अप्रेल से जून की अवधि में प्रति माह प्रति व्यक्ति 5 किलोग्राम खाद्यान्न मुफ्त में वितरित किया जा रहा है। एफसीआई के अनुसार, पश्चिम बंगाल सरकार ने बगैर ई-नीलामी के खुली बाजार बिक्री योजना (ओएमएसएस, डी) के तहत 11,800 टन चावल स्टॉक 2250 रुपए प्रति क्विंटल की दर से देने का अनुरोध किया है, लेकिन ओडिशा सरकार की ओर से आज तक खाद्यान्न की कोई आवश्यकता नहीं बताई गई है। पासवान ने एफसीआई को पश्चिम बंगाल और ओडिशा सरकारों के साथ तालमेल कायम करने और चक्रवात प्रभावित राज्यों में खाद्यान्न की ताजा स्थिति से अवगत होने को कहा। अधिकारियों ने कहा कि केंद्रीय पूल में 479.40 लाख टन गेहूं और 272.29 लाख टन चावल उपलब्ध है, कुल बफर स्टॉक 751.69 लाख टन है।

Narendra Kumar Solanki Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned