वन विभाग ने तैयार किए एक करोड़ पौधे, कल से होगा वितरण

कल से होगा वितरण
वन विभाग की नर्सरियों में मिलेंगे पौधे
5,8,10 और 40 रुपए में मिलेंगे पौधे
कल से होगी पौधरोपण कार्यक्रम की भी शुरुआत
जयपुर जिले में करीब 4800 बीघा जमीन पर होगा पौधरोपण
वन और पर्यावरण मंत्री करेंगे शुरुआत

By: Rakhi Hajela

Updated: 30 Jun 2020, 09:02 PM IST


प्रदेश में मानसून दस्तक दे चुका है। वहीं मानसून की दस्तक के साथ ही वन विभाग भी प्रदेश में पौध वितरण का काम भी शुरू कर दिया जाएगा। एक जुलाई से पौध वितरण और पौधरोपण कार्यक्रम की शुरुआत की जाएगी। विभाग प्रदेश में तकरीबन एक करोड़ से भी अधिक पौधे लगाएगा।
वन मंत्री करेंगे पौधरोपण कार्यक्रम की शुरुआत
आपको बता दें कि विभाग ने पौधरोपण कार्यक्रम के लिए जिलेवार एक्शन प्लान तैयार किया है। जयपुर जिले में करीब 4800 बीघा भूमि पर पौधरोपण किया जाएगा। पौधरोपण कार्यक्रम की शुरुआत एक जुलाई से की जाएगी। झालाना लेपर्ड रिजर्व में वन विभाग की ओर से आयोजित कार्यक्रम में इसकी शुरुआत होगी। पौधरोपण कार्यक्रम सुबह १० बजे झालाना लेपर्ड रिजर्व के जोन १० में होगा जिसमें वन मंत्री सुखराम विश्नोई, पीसीसीएफ जीवी रेड्डी, मुख्य वन्य जीव प्रतिपालक अरिन्दम तोमर, मुख्य वन संरक्षक केसी मीना, उप वन संरक्षक सुदर्शन शर्मा मौजूद रहेंगे।
17 लाख 48 हजार पौधे तैयार
जानकारी के मुताबिक पौध वितरण के लिए जयपुर जिले में करीब 17 लाख 48 हजार पौधे तैयार किए गए हैं। वन विभाग की नर्सरियों में छायादार, फलदार और फूलदार पौधे तैयार किए गए हैं। इनमें नीम, चूरैल, शीशम, अरडू, सिरस, जामून, बिल्वपत्र,अशोक, बड़ी पीपल, पपीता, अनार, अमरूद, आम के साथ ही फूलदार पौधों में गुलाब, मोगरा, बरान बेलए चांदनी, कनेर आदि पौधों की 60 से ज्यादा वैराइटी तैयार की गई हैं। साथ ही नर्सरियों में ओरनामेंटल पौधे विशेष तौर पर तैयार किए गए हैं। लोग नर्सरी से सुबह 9 बजे से लेकर शाम 5 बजे तक पौधे खरीद सकेंगे। प्रत्येक पौधे की छोटी थैली की दर 5 रुपए और बड़ी थैली की दर 15 रुपए निर्धारित की गई है। पौध वितरण सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक किया जाएगा। हालांकि महीने के द्वितीय शनिवार, रविवार और राज्य सरकार की ओर से घोषित राजपत्रित अवकाश के दिन पौधे नहीं मिलेंगे।

किया गया है नवाचार
आपको यह भी बता दें कि वन विभाग नें इस बार पौधा वितरण प्रणाली को लेकर नया नवाचार भी किया है। वन विभाग की नर्सरियों में उपलब्ध पौधों की जानकारी वन विभाग की एप के माध्यम से भी मिल सकेगी। वन विभाग की किस नर्सरी में किस किस्म के प्लांट्स हैं, कैसी वेरायटी हैं, ये सब जानकारी एप के माध्यम से भी लोगों को मुहैया करवाई जाएगी।
अगर सिर्फ जयपुर प्रादेशिक रेंज के तहत आने वाली नर्सरियों की बात की जाएं तो यहां ५ नर्सरियां हैं। बालाजी नर्सरी, जवाहर नगर नर्सरी, सिल्वन नर्सरी, दहमी कला नर्सरी और कालवाड नर्सरी। इन पाचों नर्सरियों पर कुल 1 लाख 60 हजार पौध वितरण का लक्ष्य रखा गया है। इनमें छायादार, फलदार और फूलदार पौधे हैं। मुख्य रूप से नीम के 15000, जामुन के 5100, करंज के 29000, अशोक के 3000, शीशम के 5600, गुलाब के 10000 पौधे वितरित करने का लक्ष्य रखा गया ह ै। इन पौधों की दर 5 रुपए, ८ रुपए, १५ रुपए और ४० रुपए निर्धारित की गई है। इसी प्रकार अन्य वन विभाग की अन्य नर्सरियों से भी इसी कीमत पर पौधे वितरण का काम शुरू होगा।

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned