वन विभाग के कार्मिकों का होगा वैक्सीनेशन


प्रमुख शासन सचिव ने लिखा सभी जिला कलेक्टर को पत्र
कहा, प्राथमिकता से किया जाए वन कार्मिकों का टीकाकरण
सीएमएचओ को निर्देशित करें जिला कलेक्टर
आवश्यक सेवाओं में शामिल है विभाग

By: Rakhi Hajela

Published: 02 May 2021, 08:44 PM IST



जयपुर, 2 मई
प्रदेश के लगातार बढ़ते कोविड के मामलों को देखते हुए वन विभाग (forest department) अपने अधिकारियों और कार्मिकों की सुरक्षा को लेकर सजग हो गया है। विभाग की प्रमुख शासन सचिव श्रेया गुहा (Chief Government Secretary Shreya Guha) ने वन विभाग के सभी अधिकारियों और कर्मचारियों का टीकाकरण किए जाने को लेकर सभी जिला कलेक्टर को पत्र लिखा है। जिसमें कहा गया है कि अपने जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों को निर्देशित करें कि वन विभाग के अधिकारियों और कार्मिकों का टीकाकरण प्राथमिकता से किया जाए। इसके साथ ही उन्हें वन विभाग के सभी जिलों के उप वन संरक्षकों को निर्देश दिए हैं कि वह संबंधित मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों को विभागीय कार्मिकों की सूची उपलब्ध करवाएं।
गुहा ने पत्र में लिखा कि हाल ही में गर्मी के मौसम में जंगलों में आग लगने की घटनाएं होती रहती हैं जिस पर ग्रामवासियों के सहयोग से काबू करना होता हे। इतना ही नहीं शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में लगातार वन्यजीवों को रेस्क्यू करने का काम विभागीय कार्मिक करते हैं। वन क्षेत्रों में तेंदू पत्ता संग्रहण का काम भी शुरू हो चुका है जो समयबद्ध कार्यक्रम है, जिससे आगामी एक माह में सैकड़ों मजदूर यह काम वनकर्मियों की निगरानी में करेंगे। यदि यह काम नहीं हुआ तो 40करोड़ का आय का नुकसान होगा। उन्होंने पत्र में यह भी लिखा कि सरकार की योजना घर घर औषधि में विभाग को नर्सरियों में दो माह में पांच करोड़ पौधे तैयार करने हैं। विभाग में पहले ही स्टाफ की कमी है, ऐसे में यदि कार्मिक कोविड पॉजिटिव होते हैं ना केवल उनकी जान पर संकट होगा बल्कि विभागीय काम भी बाधित हो जाएंगे।
गौरतलब है कि जन अनुशासन पखवाड़े के तहत जारी की गाइडलाइन में वन विभाग आवश्यक सेवाओं में शामिल नहीं था लेकिन विभागीय अधिकारियों ने पहल करते हुए गृह विभाग को पत्र लिखकर विभाग को आवश्यक सेवाओं में शामिल करवाया और अब प्राथमिकता से टीकाकरण करवाने के लिए कहा है।

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned