वजन कम करने के लिए इन चार बातों पर करें गौर

वजन कम करने के लिए हार्ड एक्सरसाइज करना ही काफी नहीं है, बल्कि आपको कुछ बेसिक चीजों का भी ध्यान रखने की जरूरत है।

By: Archana Kumawat

Published: 27 Mar 2020, 08:30 PM IST

कैलोरी की मात्रा कम करें - यदि आप कम कैलोरी लेंगे और ज्यादा बर्न करेंगे तो वजन को आसानी से मैनेज किया जा सकता है लेकिन इसका मतलब यह भी नहीं है कि आप डाइटिंग करना शुरू कर दें। दरअसल, डाइटिंग करने से शरीर में पोषक तत्वों की कमी हो जाती है और आप कुपोषण का शिकार हो सकते हैं। इसलिए आपको इस बात पर ध्यान देने की आवश्यकता है कि आप रोजाना कितनी कैलोरी ले रहे हैं और कितनी बर्न कर रहे हैं। इसके अलावा एक बार में पेटभर खाने के बजाय बार-बार कम मात्रा में खाएं। इससे मेटाबॉलिज्म ठीक रहता है और अतिरिक्त चर्बी का जमाव नहीं होगा।

काब्र्स की मात्रा कम कर दें - वजन कम करने के लिए आपको यह भी ध्यान देना होगा कि डाइट में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा कम हो। दरअसल, कार्बोहाइड्रेट ब्लड ग्लूकोज के लेवल को बढ़ाने का काम करती है। इसलिए कार्बोहाइड्रेट से भरपूर खाद्य पदार्थ जैसे ब्रेड, पास्ता, फ्रेंच फ्राइज, चावल आदि का सेवन कम मात्रा में करें। कार्बोहाइड्रेट की जगह प्रोटीन की मात्रा बढ़ाएं। लो काब्र्स डाइट के साथ ही आप सैचुरेटेड फैट और ट्रांस फैट की मात्रा भी कम कर दें।

बैड फैट को कहें ना - हेल्दी और गुड फैट वजन को कंट्रोल करने का काम करता है। साथ ही यह मूड को भी ठीक रखता है। एवोकाडो, सीड्स, नट्स, सोया मिल्क, टोफू आदि से अनसैचुरेटेड फैट लिया जा सकता है। यह फैट वजन को कम करने के साथ ही संपूर्ण स्वास्थ्य लाभ भी देगा। इस तरह शरीर में बुरे कोलेस्ट्रोल का स्तर भी नहीं बढ़ेगा, जिससे हार्ट डिजीज का खतरा भी कम हो जाएगा।

मेडिटेरेनियन डाइट - मेडिटेरेनियन डाइट में गुड फैट्स और गुड काब्र्स होते हैं, जो वजन को कंट्रोल रखते हैं। दरअसल इस डाइट में ताजा फल और सब्जियों को अधिक मात्रा में शामिल किया जाता है। मेडिटेरेनियन डाइट में ऑलिव ऑयल का भी प्रमुखता से सेवन किया जाता है। यह डाइट शारीरिक क्रियाओं को सुचारू करने के साथ ही अतिरिक्त चर्बी के जमाव को भी रोकने का काम करती है।

Archana Kumawat
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned