scriptFree 35 kg wheat every month Sahariya, Khairwa and Kathodi tribe | इन परिवारों को मिलेगा प्रति राशनकार्ड 35 किलो गेहूं, पढ़े पूरी खबर | Patrika News

इन परिवारों को मिलेगा प्रति राशनकार्ड 35 किलो गेहूं, पढ़े पूरी खबर

राजस्थान में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा सूची में नाम जोड़ने के लिए पोर्टल पुनः शुरू कर दिया है। राज्य सरकार की इस घोषणा में 10 लाख नए परिवारों को राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा सूची में जोड़ने का लक्ष्य है।

जयपुर

Published: April 04, 2022 05:32:41 pm

राजस्थान में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा सूची में नाम जोड़ने के लिए पोर्टल पुनः शुरू कर दिया है। राज्य सरकार की इस घोषणा में 10 लाख नए परिवारों को राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा सूची में जोड़ने का लक्ष्य है। साथ ही बारां जिले की सहरिया एवं खैरवा जनजाति और उदयपुर जिले की कथौड़ी जनजाति के परिवारों को वित्त प्रति राशनकार्ड 35 किलो गेहूं हर माह निःशुल्क उपलब्ध करवाया जाएगा।

Free 35 kg wheat every month Sahariya, Khairwa and Kathodi tribe

इन परिवारों को हर माह 35 किलो गेहूं निःशुल्क
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बारां जिले की सहरिया व खैरवा जनजाति और उदयपुर जिले की कथौड़ी जनजाति के परिवारों को वित्त वर्ष 2022-23 में भी प्रति राशनकार्ड 35 किलो गेहूं हर माह निःशुल्क उपलब्ध कराने की मंजूरी दी है। इस निर्णय का लाभ इन जनजातियों के 34 हजार 822 परिवारों को मिलेगा। यह लाभ सरकारी एवं अर्द्धसरकारी कर्मचारी, राजकीय सेवा के पेंशनर्स, आयकरदाता, सेवाकर का भुगतान करने वाले परिवारों, चार कमरे के मकान मालिकों तथा चौपहिया वाहन (ट्रेक्टर के अलावा) रखने वाले परिवारों को नहीं मिलेगा।

आमजन को मिलेगा सस्ता गेहूं
खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग के मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने बताया कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा सूची में नाम जोड़ने के लिए पोर्टल पुनः शुरू कर दिया है। ई मित्र के माध्यम से नवीन आवेदन पत्र स्वीकार किए जाएंगे। पोर्टल पर आवेदन के लिए जन आधार कार्ड एवं आधार नंबर होना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता को वन नेशन वन राशन कार्ड के तहत पूरे देश में कहीं से गेहूं लेने का लाभ मिल रहा है। भविष्य में भी इन लाभार्थियों को राशन लेने में परेशानी ना हो इसलिए नए आवेदनों में जन आधार कार्ड एवं आधार नंबर को अनिवार्य किया गया है।

दो साल पहले कर दिया था बंद
खाद्य मंत्री ने कहा कि प्रदेशवासियों की ओर से लंबे समय से एनएफएसए पोर्टल को पुनः शुरू किए जाने की मांग की जा रही थी। अब प्रदेश का हर जरूरतमंद सस्ते गेहूं का लाभ उठा सकेगा और कोई भूखा नहीं रहेगा। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना में प्रदेश के एनएफएसए लाभार्थियों की अधिकतम संख्या 4.46 करोड़ होने पर एनएफएसए पोर्टल को 18 मई 2020 को बंद कर दिया गया था। लेकिन अब पोर्टल पुनः शुरू किया गया है।

इस प्रकार दिया जा रहा है लाभ
खाचरियावास ने कहा कि वर्ष 2013 में यूपीए सरकार के समय शुरू हुई इस योजना से आज भी आमजन लाभान्वित हो रहे हैं। उन्होंने बताया कि पात्र लाभार्थियों की संख्या बढ़ाने के लिए राज्य सरकार की ओर से केन्द्र सरकार को पत्र लिखकर प्रयास भी किया जा रहा है। विभाग की एक रुपए किलो गेहूं फ्लैगशिप योजना के तहत प्रदेश में बीपीएल, स्टेट बीपीएल परिवारों को 5 किलो गेहूं प्रति यूनिट और अंत्योदय परिवारों को 35 किलो गेहूं प्रति परिवार हर माह दिया जा रहा है। शेष सभी श्रेणी के लाभार्थियों को 2 रुपए प्रति किलो गेहूं उपलब्ध करवाया जा रहा है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

Thailand Open: PV Sindhu ने वर्ल्ड की नंबर 1 खिलाड़ी Akane Yamaguchi को हराकर सेमीफाइनल में बनाई जगहIPL 2022 RR vs CSK Live Updates: रोमांचक मुकाबले में राजस्थान ने चेन्नई को 5 विकेट से हरायासुप्रीम कोर्ट में अपने लास्ट डे पर बोले जस्टिस एलएन राव- 'जज साधु-संन्यासी नहीं होते, हम पर भी होता है काम का दबाव'ज्ञानवापी मस्जिद केसः सुप्रीम कोर्ट का सुझाव, मामला जिला जज के पास भेजा जाए, सभी पक्षों के हित सुरक्षित रखे जाएंशिक्षा मंत्री की बेटी को कलकत्ता हाई कोर्ट ने दिए बर्खास्त करने के निर्देश, लौटाना होगा 41 महीने का वेतनCBI रेड के बाद तेजस्वी यादव ने केंद्र सरकार पर कसा तंज, कहा - 'ऐ हवा जाकर कह दो, दिल्ली के दरबारों से, नहीं डरा है, नहीं डरेगा लालू इन सरकारों से'Ola-Uber की मनमानी पर लगेगी लगाम! CCPA ने अनुचित व्यवहार के लिए भेजा नोटिस, 15 दिन में नहीं दिया जवाब तो हो सकती है कार्रवाईHyderabad Encounter Case: सुप्रीम कोर्ट के जांच आयोग ने हैदराबाद एनकाउंटर को बताया फर्जी, पुलिसकर्मी दोषी करार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.