जिलों के गजेटियर्स होंगे तैयार, मुख्यमंत्री गहलोत ने दी मंजूरी

राज्य सरकार (state government ) चरणबद्ध रूप से प्रदेश के सभी 33 जिलों के गजेटियर्स ( Gadgets ) का नए सिरे से लेखन कराएगी। इसके तहत हर साल कम से कम 6 जिलों के गजेटियर का लेखन कर इनका प्रकाशन करवाया जाएगा। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ( Chief Minister Ashok Gehlot ) ने इस संबंध में कार्ययोजना को स्वीकृति दी है।

By: Ashish

Published: 28 May 2020, 05:39 PM IST

जयपुर

Chief Minister Ashok Gehlot : राज्य सरकार (state government ) चरणबद्ध रूप से प्रदेश के सभी 33 जिलों के गजेटियर्स ( Gadgets ) का नए सिरे से लेखन कराएगी। इसके तहत हर साल कम से कम 6 जिलों के गजेटियर का लेखन कर इनका प्रकाशन करवाया जाएगा। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ( Chief Minister Ashok Gehlot ) ने इस संबंध में कार्ययोजना को स्वीकृति दी है। प्रथम चरण में अलवर, बांसवाड़ा, जोधपुर, करौली, हनुमानगढ़ तथा प्रतापगढ़ जिलों के गजेटियर्स के लेखन एवं प्रकाशन का कार्य शुरू कर दिया गया है।


इनमें से प्रत्येक जिले के लिए 5 लाख रूपए के अनुसार कुल 30 लाख रूपए का बजट प्रावधान किया गया है। इसी के साथ अगले चरण में चूरू, भरतपुर, गंगानगर, बीकानेर, जैसलमेर एवं जालौर जिले की सूचना का संकलन एवं लेखन का कार्य किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए हैं कि सभी जिलों के गजेटियर्स लेखन में एकरूपता एवं प्रामाणिकता रखने के लिए इन्हें राज्य स्तर पर चुनिंदा लेखकों से ही लिखवाया जाए।

उल्लेखनीय है कि पूर्व में प्रकाशित सभी जिला गजेटियर्स 15 से 40 वर्ष तक पुराने हैं। ऐसे में मुख्यमंत्री गहलोत ने इसे अद्यतन करने के लिए इस साल बजट में जिला गजेटियर्स के नए सिरे से लेखन करवाने की महत्वपूर्ण घोषणा की थी। इसे चरणबद्ध रूप से पूरा करने के लिए मुख्यमंत्री ने इस कार्य योजना को मंजूरी दी है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned