सिंजारा महोत्सव आज, गणपति को लगाएंगे मेहंदी

Mohan Murari | Publish: Sep, 12 2018 12:51:51 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

गजानंद का आज होगा विशेष शृंगार, मंदिरों में सजेंगी झांकियां

जयपुर। छोटी काशी में प्रथम पूज्य का जन्मोत्सव गुरुवार यानि कल हर्षोल्लास के साथ मनाया जाएगा। इस मौके पर गौरी सुत गणेश का अभिषेक के बाद नवीन पौशाक धारण करवाकर शृंगार किया जाएगा। गजानंद के स्वागत के लिए मंदिरों में रंगीन रोशनी और बांदरवालों एवं पन्नियों से सजावट की गई है। इससे पहले आज गणेश मंदिरों में गजानंद का सिंजारा महोेत्सव मनाया जा रहा है। गणपति एवं रिद्धि-सिद्धि को मेहंदी अर्पित की जाएगी। गणपति को विशेष व्यंजनों का भोग लगाया जाएगा।

सोने का मुकुट धारण कर चांदी के सिंहासन पर विराजेंगे गजानन
मोती डूंगरी गणेशजी का सिंजारा मनाया जाएगा। शाम 7.00 बजे गणेशजी का विशेष शृंगार होगा एवं भगवान गणेजी के सिंजारे की मेहंदी अर्पित की जाएगी। इस दौरान पट मंगल रहेंगे। शाम को भक्तों को 31 सौ किलो मेहंदी का प्रसाद स्वरूप वितरण किया जाएगा। महंत कैलाश शर्मा ने बताया कि इस दिन गणेशजी का शृंगार कर चांदी के सिंहासन पर विराजित कर सोने का मुकुट एवं विशेष पोशाक धारण करवाई जाएगी। साथ ही महंत परिवार की ओर से तैयार नौलखा हार धारण करवाया जाएगा। गुरुवार प्रथम पूज्य के अभिषेक के बाद दर्शन खुलेंगे। मोती डूंगरी गणेशजी के मंगलवार शाम सुगम संगीत का कार्यक्रम हुआ। इसमें डॉ. पूजा व गोपालसिंह ने सुगम संगीत की प्रस्तुति दी, वही नालंदा कला केन्द्र के कलाकारों ने भरत नाट्यम की प्रस्तुति दी।

कल सुबह चार बजे होगी मंगला
मंगला आरती सुबह 4.00 बजे विशेष पूजन सुबह 11.25 बजे शृंगार आरती प्रात: 11.30 बजे भोग आरती दोपहर 3.00 बजे संध्या आरती शाम 7.00 बजे शयन आरती रात 11.45 बजे होगी।

शुक्रवार को निकलेगी शोभायात्रा
गणपति महोत्सव समिति की ओर से मोतीडूंगरी गणेश मंदिर से आतिशी नजारों के साथ शुक्रवार को शोभायात्रा निकाली जाएगी। शोभायात्रा मोती डूंगरी गणेश मंदिर से दोपहर 3 बजे रवाना होकर मोती डूंगरी रोड, जौहरी बाजार,त्रिपोलिया बाजार,गणगौरी बाजार, ब्रह्मपुरी होते हुए गढ़ गणेश मंदिर पर विसर्जित होगी।

... लड्डुओं का होगा सिद्ध प्रयोग
सूरजपोल स्थित श्री श्वेत सिद्धि विनायक मंदिर में शनिवार शाम 6.15 से 9.15 बजे तक मूंग के लड्डुओं की झांकी सजाई जाएगी। मंदिर के महंत मोहनलाल शर्मा ने बताया कि दोपहर 2:15 बजे से सिंजारा महोत्सव मनाया जाएगा। महिलाएं गणेशजी एवं रिद्धि-सिद्धि को मेहंदी अर्पित करेंगी इसके बाद मेहंदी अर्पित की जाएगी। गुरुवार को प्रात:4:30 बजे दुग्धाभिषेक एवं पूजन किया जाएगा। प्रात:काल से ही 108 एवं 1008 मूंग के लड्डुओं का सिद्ध प्रयोग का कार्यक्रम होगा। शाम को शृंगार होगा।

बैंड की स्वर लहरियों से होगा स्वागत
बंगाली बाबा आश्रम दिल्ली रोड स्थित गणेश मंदिर में शाम 5 बजे से सिंजारा महोत्सव मनाया जाएगा। इस मौके पर सौभाग्यदेवी पूजन, चंद्रार्चन,मेहंदी व सौभाग्य सामग्री अर्पण सहित कई आयोजन होंगे। गुरुवार सुबह 7 बजे से प्रथम पूज्य का पंचामृताभिषेक कर फूल बंगला में विराजित करवाया जाएगा। इस मौके पर बैंड वादन होगा।

दाल बाटी चूरमा का भोग
सिद्ध गणेश मंदिर कुंदीगर भैरुजी का रास्ता स्थित सिद्ध गणेश मंदिर में महंत रतन शंकर गौतम के सान्निध्य में सिंजारा महोत्सव मनाया जाएगा। शाम को हरितालिका कथा का आयोजन होगा और गजानंद को दाल बाटी चूरमा का भोग लगाया जाएगा। गणेश चतुर्थी के दिन प्रात: 5 बजे अभिषेक के बाद नवीन पोशाक एवं चांदी का मुकुट धारण करवाया कर माणक मोती से शृंगार किया जाएगा।

11 हजार मोदकों की सजेगी झांकी
परकोटे वाले गणेशजी चांदपोल स्थित परकोटे वाले गणेशजी मंदिर में गणेशोत्सव के तहत गणपति का सिंजारा महोत्सव मनाया जा रहा है। महंत कैलाशचंद्र शर्मा के सान्निध्य में पंचामृत से स्नान व दुग्धाभिषेक हुआ। शाम को गणेशजी को मेहंदी अर्पित करने के बाद मूंग चावल का भोग लगाया जाएगा। गणेशजी को फूल बंगले की झांकी में विराजित कर 11 हजार मोदकों की झांकी सजाई जाएगी। शाम को ख्याति प्राप्त कलाकार गणपति का गुणगान करेंगे।

गजानन धारण करेंगे लहरिया की पोशाक
ब्रह्मपुरी, माउंट रोड स्थित दक्षिणावृति सूंड एवं दक्षिणाभिमुख श्री नहर के गणेशजी महाराज के मंदिर में सिंजारा महोत्सव मनाया जा रहा है। मंदिर के महंत जय शर्मा के सान्निध्य में गणपति एवं रिद्धि-सिद्धि को सिंजारे की सुगंधित मेहंदी अर्पित की जाएगी। भक्तजनों को सौभग्यवर्धक मेहंदी व चौले का सिन्दूर प्रसाद स्वरूप वितरित किया जाएगा। गणेश जी परम्परागत रूप से गणपति को सिन्दूर का चौला अर्पण कर लहरिए की पोशाक व साफा धारण करवाया जाएगा। गुरुवार को गणेशोत्सव मनाया जाएगा। मंगला आरती से ही दर्शनों के लिए पट खुले रहेंगे। गढ़ गणेश में महंत प्रदीप औदिच्य के सान्निध्य में सिंजारा महोत्सव मनाया जा रहा है। गणपति को मेहंदी अर्पित करने के बाद गणेशजी का शृंगार किया जाएगा। गेट स्थित गीता गायत्री मंदिर में भी आज पंडित राजकुमार शर्मा के सान्निध्य में सिंजारा महोत्सव मनाया जाएगा। गणपति को मेहंदी अर्पित करने के बाद प्रसाद स्वरूप मेहंदी वितरित की जाएगी।

घरों में मनेगा सिंजारा
आज घरों में सिंजारा महोत्सव मनाया जा रहा है। आज नौनिहालों के ननिहाल पक्ष और बुआ के यहां से सिंजारा आएगा। इसमें कपड़े, खिलोने, डंके, गुड़ धानी प्रमुख रूप से शामिल है। गुरुवार को द्वार पर लगे गणेशजी की पूजा होगी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned