मोदकों की झांकी के साथ गणेश जन्मोत्सव की शुरुआत आज से

मोदकों की झांकी के साथ गणेश जन्मोत्सव की शुरुआत आज से

Jyoti Patel | Publish: Sep, 04 2018 04:42:43 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

जयपुर. शहर में गणेश चतुर्थी की तैयारियां ज़ोरो पर शुरू हो गई हैं। वैसे तो देशभर में गणेश चतुर्थी 13 सितम्बर को मनाई जाएगी। लेकिन जयपुर के मोती डूंगरी गणेशजी के मदिर में मंगलवार 4 सितंबर से गणेश जन्मोत्सव शुरू हो गया हैं। जो की 13 सितंबर गणेश चतुर्थी तक मनाया जाएगा। इससे पहले मोती डूंगरी गणेशजी मंदिर में बुधवार को मोदकों की झांकी के साथ गणेशजी के जन्मोत्सव कार्यक्रम शुरू होंगे। महोत्सव के तहत 7 सितंबर को पुष्य नक्षत्र में गणेश जी का अभिषेक होगा, इस दिन ध्वजारोहण और ध्वज पूजन भी होगा। इसके दूसरे दिन से मंदिर में सांस्कृतिक कार्यक्रम व भजन संध्या शुरू होगी, जो 11 सितंबर तक चलेंगे। 12सितंबर को सिंजारा महोत्सव मनाया जाएगा। मुख्य आयोजन 13 सितंबर को गणेश जन्मोत्सव के रूप में होगा।

मंदिर महंत कैलाश शर्मा ने मंगलवार को पत्रकारों को बताया कि गणेशजी का जन्मोत्सव 13 सितंबर को मनाया जाएगा। महोत्सव के तहत बुधवार को सुबह 5बजे मंगला आरती के साथ मोदकों की झांकी के दर्शन खुलेंगे। झांकी में मुख्य मोदक 251 किलो के दो मोदक, 5 मोदक 51 किलो के, 21 मोदक 21 किलो के और 1100 मोदक 1.25किलो के साथ अन्य छोटे मोदक होंगे। इस दिन गजानन महाराज को रत्न जडि़त मुकुट धारण करवाया जाएगा। महोत्सव के तहत 7 सितंबर को सुबह 8 बजे पुष्ण नक्षत्र में भगवान गणेशजी महाराज का पंचामृत अभिषेक किया जाएगा। इसके बाद भक्तों को रक्षा सूत्र व हल्दी प्रसाद वितरित किया जाएगा। अभिषेके बाद भगवान के ध्वज पूजन होगा, नवीन झंडे धारण करवाए जाएंगे। वहीं 1008 मोदक अर्पित किए जाएंगे। वहीं ८ से 11 सितंबर तक विभिन्न सांस्कृतिक कार्यकमव भजन संध्या होंगी। 12 सितंबर को सिंजारा महोत्सव मनाया जाएगा। गणेशजी महाराज को सिंजारे की मेहंदी धारण करवाई जाएगी और भक्तों को मेहंदी वितरित की जाएगी। मुख्य आयोजन गणेश चतुर्थी पर 13 सितंबर को होगा, इस दिन मंगला आरती सुबत ४ बजे और शयन आरती रात ११.४५ बजे होगी।

Read more : मुख्यमंत्री राजे आज करेंगी लाभार्थियों से जनसंवाद

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned