त्वचा की समस्या बढ़ा देगा लहसुन!

लहसुन में औषधीय गुण होते हैं लेकिन कच्चे लहसुन का अधिक मात्रा में सेवन करना हानिकारक है

By: Archana Kumawat

Published: 25 Apr 2018, 04:58 PM IST

लिवर का स्वास्थ्य


लि वर शरीर का महत्त्वपूर्ण अंग है लेकिन बहुत अधिक लहसुन का सेवन करना इसके लिए हानिकारक हो सकता है। दरअसल, लहसुन में एंटी ऑक्सीडेंट्स की मात्रा अधिक होती है लेकिन इनकी अधिकता लिवर के लिए ठीक नहीं है। इसी तरह किसी भी मसाले या हर्ब का बहुत अधिक सेवन करने से लिवर संबंधी बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है।


हार्टबर्न की समस्या


कई बार ताजा लहसुन की कली खाने से हार्टबर्न की समस्या हो सकती है। खाली पेट लहसुन खाने से इसमें पाए जाने वाले पोषक तत्व एवं तेल पेट संबंधी समस्या बढ़ा सकते हैं। इस वजह से मितली, उल्टी एवं हार्ट बर्न जैसी दिक्कतें हो सकती है। इस संबंध में एक स्टडी से सामने आया है कि कच्चा लहसुन न केवल पाचनतंत्र के लिए नुकसानदायक होता है, बल्कि एसिडिटी की समस्या भी बढ़ा सकता है। लहसुन का अत्यधिक मात्रा में सेवन करने से डायरिया की समस्या भी हो सकती है। इसलिए यदि आप लहसुन का पूरा लाभ लेना चाहते हैं तो इसका सेवन कम मात्रा में ही किया जाना चाहिए।

मुुंह में दुर्गंध वजह हो सकता है लहसुन


यदि आपके मुंह से दुर्गंध आती है तो इससे आपका आत्मविश्वास कमजोर होगा। साथ ही आप लोगों से दूरी बनाने लगेंगे। इसके पीछे आपका कच्चा लहसुन खाना हो सकता है। कच्चे लहसुन में से तेज गंध आती है, जो मुंह में दुर्गंध का कारण हो सकती है। इतना ही नहीं, लहसुन का अधिक मात्रा में सेवन करने से पसीने में से भी तेज गंध आएगी। हालांकि पसीने से तेज दुर्गंध आने के पीछे अन्य कारण भी हो सकते हैं लेकिन यदि आपकी लहसुन ज्यादा खाने की आदत है तो इस आदत को तुरंत प्रभाव से बदल लें।

त्वचा संबंधी संक्रमण


ल हसुन त्वचा पर जलन पैदा करने का कारण भी हो सकता है। लहसुन में पाए जाने वाले एंजाइम एल्लिनेज की वजह से ऐसा होता है। यह एंजाइम त्वचा के लिए तब हानिकारक होता है, जब हम लहसुन का अधिक मात्रा में सेवन करें। इस संबंध में एक रिपोर्ट के अनुसार, अधिक मात्रा में लहसुन का सेवन करने से हाथों में खुजली एवं लाल रंग के दानों की समस्या हो सकती है। इसलिए यदि आपकी त्वचा संवेदनशील है या फिर आपको त्वचा संबंधी समस्या है तो लहुसन को काटते समय भी अपने हाथों में दस्ताने पहन लेें, इससे खुजली नहीं होगी।

सिरदर्द की समस्या


क च्चे लहसुन को खाने से सिरदर्द की समस्या भी हो सकती है। कई बार लहसुन सीधे रूप से सिरदर्द का कारण नहीं होता लेकिन यह सिर में दर्द को तेज कर सकता है। इस संबंध में भी कई तरह की स्टडी से सामने आया है कि कच्चे लहसुन का अधिक मात्रा में सेवन करने से ट्राइगेमिनल नर्व उत्तेजित होती है, जो न्यूरोपैप्टाइड्स का स्त्राव करती है। यह ब्रेन मेम्ब्रेन में पहुंचकर सिरदर्द का कारण बनता है। इसके अलावा यदि आप किसी तरह की एंटी बायोटिक या अन्य तरह की दवाइयां ले रहे हैं तो लहसुन का सेवन करने से पहले चिकित्सक से बात करें।

गर्भावस्था में रखें ध्यान

हीलिंग प्रॉपर्टीज के लिए लहसुन को अच्छा माना जाता है लेकिन लहसुन का बहुत अधिक मात्रा में सेवन करने से ब्लड का बनाने वाली प्लेटलेट्स के संग्रहण में कमी होने लगती है, जो गर्भावस्था में बहुत हानिकारक है। इस वजह से लहसुन का सेवन करने से रक्तस्त्राव या समय से पूर्व प्रसव का खतरा बढ़ सकता है। इसलिए गर्भावस्था में लहसुन का कम मात्रा में सेवन करना चाहिए। लहसुन खून को पतला बनाने का काम भी करता है। सर्जरी से पहले और बाद में लहसुन का सेवन करने से पहले चिकित्सक की सलाह अवश्य लें।

Archana Kumawat
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned