बीसलपुर से खुशखबरी पानी का गेज 307 आरएल मीटर के नजदीक

बीसलपुर से खुशखबरी पानी का गेज 307 आरएल मीटर के नजदीक

Kamlesh Agarwal | Updated: 02 Aug 2019, 11:15:04 AM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

बीसलपुर से खुशखबरी पानी का गेज 307 आरएल मीटर के नजदीक

बीसलपुर से खुशखबरी पानी का गेज 307 आरएल मीटर के नजदीक

जयपुर

प्रदेश के चार प्रमुख जिलों की लाइफ लाइन बीसलपुर बांध में पानी की आवक लगातार बनी हुई है। हालांकि आवक हो रहे पानी की रफ्तार धीमी है लेकिन बीते सात दिन में हुई आवक ने जयपुर,अजमेर,टोंक और दौसा जिलों को 70 दिन तक जलापूर्ति जितने पानी का इंतजाम जरूर कर दिया है। शुक्रवार के बाद से बांध के जलस्तर में 2.12 मीटर की बढ़ोतरी हो चुकी है। आज सुबह बांध का जलस्तर 306.97 आरएल मीटर रेकॉर्ड हुआ है। गौरतलब है कि जयपुर,अजमेर और टोंक जिलों को बांध से रोजाना जलापूर्ति होने पर बांध के जलस्तर में करीब तीन सेंटीमीटर तक कमी होती है। आज सुबह तक बांध के जलस्तर में 2.12 मीटर बढ़ोतरी के हिसाब से तीनों जिलों में अगले 70 दिन तक जलापूर्ति लायक पानी उपलब्ध हो गया है।
हालांकि बीते चौबीस घंटे में बांध के कैचमेंट एरिया और आस पास के इलाकों में बारिश का दौर थमा रहा है लेकिन भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़ जिलों में हो रही बारिश से त्रिवेणी से होकर बांध तक पानी की आवक लगातार बनी हुई है। आज सुबह त्रिवेणी में पानी का बहाव 1.40 मीटर उंचाई तक दर्ज हुआ है। मौसम विभाग के अनुसार अगले 24 घंटे में भीलवाड़ा,चित्तौड़गढ़, राजसमंद जिलों में भारी बारिश होने का अनुमान है। ऐसे में जल संसाधन विभाग ने अगले 48 घंटे में बीसलपुर बांध में पानी की आवक तेज होने की उम्मीद जताई है।

बंगाल की खाड़ी में बने कम वायुदाब क्षेत्र के असर से प्रदेश के उत्तर पूर्वी इलाकों में सक्रिय हुए चक्रवाती तंत्र से प्रदेश के कई इलाकों में बीते 24 घंटे में मेघ जमकर मेहरबान हुए। बीती शाम राजधानी जयपुर में करीब दो घंटे से भी ज्यादा देरतक बारिश का दौर चला। जयपुर कलक्ट्रेट पर जहां 36 मिमी बारिश मापी गई वहीं सांगानेर में दो घंटे में ही 70 मिमी बारिश हुई। इसके अलावा जिले के नरैना में 33 और फागी में 23 मिमी बारिश दर्ज हुई। मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश के उत्तर पूर्वी इलाकों में चक्रवाती तंत्र सक्रिय है और अगले तीन पूर्वी राजस्थान के करीब एक दर्जन जिलों में भारी बारिश होने की संभावना है। अजमेर में आनासागर ओवरफ्लो हो गया और झील का पानी सड़कों पर आ गया। पुष्कर में पांच इंच बारिश से पुष्कर सरोवर के जलस्तर में 43 साल बाद आठ फीट बढ़ोतरी हुई। अजमेर में भारी बारिश से एक निर्माणाधीन मकान की दीवार गिरने से तीन लोगों की मौत हो गई। सिरोही के माउंट आबू में दस इंच बारिश मापी गई। आबू की नक्की झील में करीब तीन फीट पानी की आवक हुई। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में जयपुर समेत अजमेर,बूंदी, टोंक, झालावाड़, कोटा, बारां, भीलवाड़ा,चित्तौड़गढ़, राजसमंद, उदयपुर, डूंगरपुर, बासंवाड़ा, जोधपुर और पाली जिलों में भारी बारिश होने की चेतावनी दी है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned