हार के बहाने आमने-सामने गहलोत-पायलट कैंप, मंत्री अशोक चांदना ने पायलट कैंप को बताया जयचंद तो इंद्राज गुर्जर का पलटवार

-अशोक चांदना के जयचंद वाले बयान पर पलटवार करते हुए इंद्राज गुर्जर ने कहा जैसलमेर में बहुमत के बावजूद क्यों नहीं बन पाया कांग्रेसका जिला प्रमुख, जयपुर जिला प्रमुख चुनाव में कांग्रेस की हार के बाद आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू, गहलोत कैंप के नेताओं के निशाने पर हैं विधायक वेद प्रकाश सोलंकी

By: firoz shaifi

Published: 07 Sep 2021, 06:21 PM IST

फिरोज सैफी/जयपुर।

जयपुर जिला प्रमुख के चुनाव में बहुमत के बावजूद कांग्रेस की हार को लेकर आरोप-प्रत्यारोप के दौर शुरू होने के साथ ही गहलोत-पायलट के नेता भी अब आमने-सामने हो गए हैं। सोमवार रात जहां मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट करके इशारों-इशारों में जयपुर जिला प्रमुख की हार को लेकर सचिन पायलट कैंप पर निशाना साधा था तो वहीं मंगलवार को गहलोत कैंप के प्रमुख सिपहसालारों में शामिल खेल मंत्री अशोक चांदना ने सीधे-सीधे पायलट कैंप को ही जयचंद करार दे दिया।

इस मामले में पायलट कैंप कहां पीछे रहने वाला था और पायलट कैंप के विधायक इंद्राज गुर्जर ने अशोक चांदना के बयान पर पलटवार करते हुए पूछ लिया कि जैसलमेर में बहुमत के बावजूद कांग्रेस का जिला प्रमुख क्यों नहीं बन पाया? इसका जवाब अशोक चांदना को जरुर देना चाहिए।

प्रदेश प्रभारी अजय माकन के दौरे के बाद दोनों खेमों के बीच कुछ दिनों के लिए बयानबाजी पर अंकुश लग गया था लेकिन अब जयपुर जिला प्रमुख चुनाव में हार के बाद फिर से आरोप-प्रत्यारोप और बयानबाजी का दौर शुरू हो गया है।

हार के लिए कांग्रेस के जयचंद जिम्मेदारः चांदना
मंगलवार को खेल परिषद में मीडिया से बातचीत करते हुए अशोक चांदना ने जयपुर जिला प्रमुख की हार पर अपनी ही पार्टी के नेताओं को जयचंद करार दे दिया। चांदना ने कहा कि यह काम बीजेपी की ओर से नहीं किया गया बल्कि पार्टी में ही कुछ नेता हैं जो कांग्रेस में रहते हुए बीजेपी के लिए काम कर रहे हैं और जयपुर जिला प्रमुख के चुनाव में यही सब देखने को मिला ।

मंत्री अशोक चांदना ने कहा कि हमारी पार्टी के कुछ नेताओं की छवि जयचंद से कम नहीं है जो रह तो कांग्रेस में रहे हैं लेकिन काम बीजेपी के लिए करते हैं। अशोक चांदना ने कहा कि कांग्रेस आलाकमान और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 'भूलो माफ करो और आगे बढ़ो' की पॉलिसी पर काम करते हुए बड़ा दिल रख कर सभी नेताओं का स्वागत किया लेकिन बावजूद इसके यदि ऐसे नेता पार्टी के साथ विश्वासघात करते रहे तो इनकी शिकायत आलाकमान तक जरूर जाएगी और इस मामले में आलाकमान इन पर कार्रवाई भी करेंगे।

चांदना के बयान पर इंद्राज गुर्जर का पलटवार
वही अशोक चांदना की ओर से जयचंद बताने के बयान पर पलटवार करते हुए पायलट कैंप के विधायक इंद्राज गुर्जर ने कहा कि पहले अशोक चांदना इस बात का जवाब दें कि जैसलमेर में जिस तरीके से कांग्रेस का बहुमत होने के बाद भी कांग्रेस का जिला प्रमुख नहीं बन पाया था और क्रॉस वोटिंग हुई थी उस सम जयचंद कौन थे।

इंद्राज गुर्जर ने कहा कि जयपुर में जिला प्रमुख नहीं बनने का दुख उन्हें भी है। मैंने भी अपने कैंडिडेट भेजे थे और अन्य नेताओं ने भेजे थे लेकिन इस बात को इस तरीके से जोड़ना गलत है। सभी लोग पार्टी के लिए ही काम करते हैं। गौरतलब है कि बीते साल 20 जिलों में हुए पंचायतों जिला परिषद चुनाव में जैसलमेर जिला परिषद चुनाव में बहुमत के बावजूद कांग्रेस का जिला प्रमुख नहीं बन पाया था।

निशाने पर है वेद सोलंकी
वहीं जयपुर जिला प्रमुख चुनाव में बहुमत के बावजूद कांग्रेस की हार के बाद सचिन पायलट कैंप के माने जाने वाले चाकसू विधायक वेद प्रकाश सोलंकी गहलोत कैंप के नेताओं के निशाने पर हैं। गहलोत कैंप के माने जाने वाले कांग्रेस पर्यवेक्षक मुमताज मसीह ने जहां सोलंकी को गद्दार करार दिया था तो वहीं जयपुर संभाग प्रभारी गोविंद मेघवाल ने भी हार के लिए सोलंकी के रवैए को जिम्मेदार बताया था।

 

firoz shaifi Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned