scriptGehlot government in preparation for major reshuffle in bureaucracy | लचर कानून व्यवस्था से नाराज गहलोत फिर नौकरशाही में फिर बड़े फेरबदल की तैयारी में, अब बदले जाएंगे एसपी-कलेक्टर | Patrika News

लचर कानून व्यवस्था से नाराज गहलोत फिर नौकरशाही में फिर बड़े फेरबदल की तैयारी में, अब बदले जाएंगे एसपी-कलेक्टर

-सीएम गहलोत ने अपराधों को लेकर सभी जिलों से मांगी थी रिपोर्ट, अपराधों पर लगाम लगाने में नाकाम पुलिस अधीक्षकों पर गिरेगी गाज, एक दर्जन आईपीएस और 40 से ज्यादा आईएएस अफसरों की सूची पर शीर्ष स्तर पर मंथन,आईएएस अफसरों की सूची में 8 से 10 कलेक्टर्स के भी नाम, 30 जून को भी बदले गए थे 8 जिलों के एसपी

जयपुर

Updated: July 02, 2022 11:10:01 am

जयपुर। प्रदेश में बढ़ते अपराधों और लचर कानून व्यवस्था को लेकर विवादों में घिरी गहलोत सरकार अब एक बार फिर से नौकरशाही पर लगाम लगाने की तैयारी में हैं। उदयपुर हत्याकांड के बाद जहां सीएम गहलोत ने 30 अगस्त की देर रात 32 आईपीएस अधिकारियों को इधर-उधर किया था तो वहीं अब एक दर्जन से ज्यादा आईपीएस और 40 से ज्यादा आईएएस अधिकारियों की तबादला सूची पर भी मंथन चल रहा है।

secretariat
secretariat

बताया जाता है कि शानदार बजट घोषणाओं और उनके क्रियान्वयन के बावजूद लचर कानून व्यवस्था सरकार के लिए सिरदर्द साबित हो रही है। मुख्य़मंत्री भी इससे बेहद नाराज हैं। इसी के चलते एक बार फिर नौकरशाही में बड़े फेरबदल की तैयारी सरकार में चल रही है।

सरकार में शीर्ष स्तर पर आईएएस और आईपीएस अधिकारियों के नामों पर गंभीरता से मंथन चल रहा है और मुख्यमंत्री की मंजूरी के बाद जल्द ही तबादला सूची जारी हो सकती है। सूत्रों की माने तो आईपीएस अधिकारियों की सूची में एक दर्जन पुलिस अधीक्षकों नाम भी शामिल है। इसके अलावा डेढ़ दर्जन जिलों के कलेक्टरों के नाम भी सूची में बताए जा रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने मांगी थी अपराधों पर जिलों से रिपोर्ट
विश्वस्त सूत्रों की माने तो मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने उदयपुर घटनाक्रम के बाद सभी जिलों के पुलिस अधीक्षकों से जिलों में अपराधों की रोकथाम की परफॉर्मेंस रिपोर्ट मांगी थी। रिपोर्ट के आधार पर ही कमजोर परफॉर्मेंस वाले पुलिस अधीक्षकों के नाम तबादला सूची में शामिल किए गए हैं।

इसके अलावा तकरीबन डेढ़ दर्जन जिलों के जिला कलेक्टरों के नाम की तबादला सूची में हैं। बताया जा रहा है कि अपने ही विधायकों और मंत्रियों की शिकायत के बात इन कलेक्टरों के नाम तबादला सूची में शामिल किए गए हैं। इससे पहले 30 जून को सीएम गहलोत ने 32 आईपीएस अफसरों की सूची जारी की थी जिनमें उदयपुर सहित आठ जिलों के पुलिस अधीक्षक बदले गए थे।

कानून व्यवस्था पर सीएम लेंगे कलेक्टर- एसपी बैठक
सूत्रों की माने तो नौकरशाही में बड़ा फेरबदल करने के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जिला कलेक्टर और पुलिस अधीक्षकों की बैठक लेकर कानून व्यवस्था मजबूत करने पर जोर देंगे। साथ जिलों में अपराधों के प्रति सरकार की जीरो टॉलरेंस नीति के साथ किसी भी प्रकार का कोई समझौता नहीं करने के निर्देश भी कलेक्टर एसपी को देंगे।

कांग्रेस थिंक टैंक में भी कानून व्यवस्था को लेकर नाराजगी
इधर सत्तारूढ़ कांग्रेस के थिंक टैंक में भी लचर कानून व्यवस्था को लेकर नाराजगी पनप रही है। कांग्रेस थिक टैंक का मानना है कि सरकार एक से बढ़कर एक योजना प्रदेश के हित के लिए ला रही है लेकिन अपराधों के प्रति अधिकारियों के लचर रवैए के चलते सरकार की योजनाओं को पलीता लग रहा है और इसका नुकसान प्रदेश में डेढ़ साल के बाद होने वाले विधानसभा चुनाव में पार्टी को उठाना पड़ सकता है। इसलिए कानून व्यवस्था मजबूत करने के लिए सरकार को सख्त कदम उठाने चाहिए।

इंटेलिजेंस फेलियर के बावजूद कार्रवाई नहीं होने से नाराजगी
राज्य की गुप्तचर शाखा (आइबी) के लगातार फेलियर के बावजूद जिम्मेदार अधिकारियों पर कार्रवाई नहीं होने से सरकार के मंत्रियों और विधायकों में भी रोष देखने को मिल रहा है। करौली, जोधपुर, मांडल और छबड़ा में हुई सांप्रदायिक तनाव की घटनाओं में इंटेलिजेंस का फेलियर सामने आया था।

बावजूद इसके जिम्मेदार अधिकारियों पर कोई कार्रवाई नहीं की गई थी, जबकि उदयपुर घटना में भी कांग्रेस के साथ-साथ विपक्ष के नेताओं ने भी इंटेलिजेंस फेलियर को जिम्मेदार माना था। ऐसे में आईबी से जुड़े अधिकारियों पर ही कार्रवाई नहीं होने को लेकर नौकरशाहों के बीच भी चर्चा खूब है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

बिहार सीएम की शपथ लेने के साथ अपने ही रिकॉर्ड तोड़ने से चूके Nitish Kumar, 24 अगस्त को साबित करेंगे बहुमतपीएम मोदी का कांग्रेस पर बड़ा हमला, कितना भी 'काला जादू' फैला लें कुछ होने वाला नहींMumbai: सिंगर सुनिधि चौहान के खिलाफ शिवसेना ने पुलिस में दर्ज कराई शिकायत, पाकिस्तान स्पॉन्सर कार्यक्रम का लगाया आरोपदेश के 49वें CJI होंगे यूयू ललित, राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने नियुक्ति पर लगाई मुहरकश्मीरी पंडित राहुल भट्ट की हत्या का बदला हुआ पूरा, सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को मार गिरायासुनील बंसल बने बंगाल बीजेपी के नए चीफ, कैलाश विजयवर्गीय की हुई छुट्टीसुप्रीम कोर्ट से नूपुर शर्मा को बड़ी राहत, सभी FIR को दिल्ली ट्रांसफर करने के निर्देशBihar Mahagathbandhan Govt: नीतीश कुमार ने 8वीं बार ली बिहार के CM पद की शपथ, तेजस्वी यादव बने डिप्टी सीएम
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.