दुपहिया वाहन चालकों मुफ्त हेलमेट देगी सरकार!

प्रदेश में केंद्र सरकार के मोटर व्हीकल एक्ट के लागू होने के बाद एक ओर जहां जुर्माना राशि में बेतहाशा की बढ़ोत्तरी से आमजन परेशान हैं तो सरकार भी जुर्माना राशि में संशोधन कर जुर्माना कम करने की दिशा में काम कर रही है। वहीं नए एक्ट में बिना हेलमेट दुपहिया वाहन चालकों का एक हजार रुपए जुर्माना रखने को लेकर परिवहन मंत्री प्रताप सिंह ने एक सुझाव सरकार को दिया है।

 

By: firoz shaifi

Updated: 05 Sep 2019, 06:19 PM IST

जयपुर। प्रदेश में केंद्र सरकार के मोटर व्हीकल एक्ट के लागू होने के बाद एक ओर जहां जुर्माना राशि में बेतहाशा की बढ़ोत्तरी से आमजन परेशान हैं तो सरकार भी जुर्माना राशि में संशोधन कर जुर्माना कम करने की दिशा में काम कर रही है। वहीं नए एक्ट में बिना हेलमेट दुपहिया वाहन चालकों का एक हजार रुपए जुर्माना रखने को लेकर परिवहन मंत्री प्रताप सिंह ने एक सुझाव सरकार को दिया है।

दरअसल परिवहन मंत्री का सुझाव है कि अगर बिना हेलमेट दुपहिया वाहन चालक का चालान किया जाता है कि सरकार उसे मुफ्त में हेलमेट उपलब्ध करा सकती है, जिससे उस पर अतिरिक्त भार भी नहीं पड़ेगा। खाचरियावास ने कहा कि हेलमेट मिल जाने के बाद दुपहिया वाहन चालक जागरूक होंगे और हेलमेट पहनकर ही वाहन चलाएंगे।


मुफ्त हेलमेट उपलब्ध कराने के लिए परिवहन मंत्री ने अधिकारियों के साथ बैठक भी की है। बताया जाता है कि परिवहन मंत्री इसका प्रस्ताव बनाकर राज्य सरकार को भेजेंगे। बता दें कि सेंट्रल मोटर व्हीकल एक्ट में किए गए भारी भरकम जुर्माना राशि को लेकर राज्य की कांग्रेस सरकार खुश नहीं है।

परिवहन मंत्री प्रताप सिंह का कहना है कि अगर वाहन चालकों का इतना ज्यादा जुर्माना किया जाएगा तो उसे कैसे चुकाएगा। ऐसे में सरकार अपने स्तर पर इसमें संशोधन कर रही है। बता दें कि पहले बिना हेलमेट दुपहिया वाहन चलाने पर 100 रुपए जुर्माना होता था, लेकिन अब नए एक्ट के मुताबिक बिना हेलमेट दुपहिया वाहन चलाने पर 1000 रुपए जुर्माना राशि रखी गई है।

firoz shaifi Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned