VIDEO: अब गहलोत के इस मंत्री का PM मोदी से सवाल, '300 मार गिराए, तो कहां दफनाए?'

Rajasthan Gehlot minister Lal Chand Kataria controversial statement on Air Strike conducted by PM Narendra Modi

By: Nakul Devarshi

Published: 29 Mar 2019, 10:23 AM IST

जयपुर।

एयर स्ट्राइक को लेकर लगातार कांग्रेस नेता सवाल उठा रहे हैं। स्ट्राइक के सबूत मांगे जा रहे हैं। इसी बीच राजस्थान के कृषि मंत्री लालचंद कटारिया ने भी एयर स्ट्राइक को लेकर सवाल उठाए हैं। कटारिया ने कहा कि भारत सरकार दावा कर रही है कि एयर स्ट्राइक में 300 लोग मारे गए। ये सवाल पूरे देश का है। यह कोई राजनीति से प्रेरित सवाल नहीं है।


एक प्रेस कांफ्रेंस के दौरान कटारिया ने कहा कि जब पुलवामा में हमला हुआ था तो सब लोग हतप्रभ और अचंभित थे कि ऐसा कैसे हो गया। पाकिस्तान ने ऐसा कर दिया, लेकिन जो पाकिस्तान में सर्जिकल स्ट्राइक का दावा हो रहा है उसको लेकर वहां कोई शोरगुल नहीं है, इसलिए यह सवाल उठना लाजमी है।


उन्होंने कहा कि अगर भारत सरकार दावा कर रही है कि 300 लोग वहां मारे गए हैं तो उन्हें कहीं तो दफनाया गया होगा। कटारिया ने राहुल गांधी की न्याय योजना कहा कि इस योजना से गरीबों को फायदा होगा। गरीबी रेखा से नीचे जीवनयापन कर रहे 20 फीसदी लोगों को इसका सीधा फायदा होगा।

 

'एयर स्ट्राइक' पर आ रहे विवादित बयान


सैम पित्रोदा
ये पहली बार नहीं है जब एयर स्ट्राइक के बाद बयानों पर विवाद हो रहा है। हाल ही में एयर स्‍ट्राइक पर सवाल उठाने वालों में राहुल गांधी के बेहद करीबी सैम पित्रोदा ने भी सवाल उठाये थे। पित्रोदा ने पाकिस्‍तान के आतंकी ठिकानों पर भारतीय वायुसेना के हमले में 300 से अधिक आतंकियों के मारे जाने का सबूत मांगा था। पित्रोदा ने कहा था कि पाकिस्‍तान से आए कुछ लोग यदि आतंकी वारदात अंजाम देते हैं जो उसकी सजा पूरे पाकिस्‍तान को क्‍यों दी जा रही है।


उन्होंने कहा कि मैं एयर स्‍ट्राइक में 300 से अधिक आतंकियों के मारे जाने की बात मानता हूं, लेकिन मैं बस इतना चाहता हूं कि आप मुझे इससे जुड़े और तथ्‍य दें। अंतरराष्‍ट्रीय मीडिया खैबर पख्‍तूनख्‍वा में हुए हमले की कोई दूसरी तस्‍वीर दिखा रहा है, ऐसे में भारत की जनता को सच जानने का अधिकार है। मैने न्‍यूयॉर्क टाइम्‍स और दूसरे अखबारों की रिपोर्ट पढ़ी है, उसमें कहा गया है कि हमले में कोई भी नहीं मारा गया। ऐसे में मैं इस बारे में और तथ्‍य जानना चाहता हूं।


हरिभाई राठौड़
पित्रोदा से पहले एयर स्ट्राइक पर विवादित बयान देने वालों में यवतमाल से कांग्रेस नेता हरिभाई राठौड़ का नाम भी शामिल रहा। राठौड़ ने कहा था कि पाकिस्तान के बालाकोट में स्थित जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी ठिकानों पर भारतीय वायुसेना की ओर से की गई एयर स्ट्राइक में एक चींटी तक भी नहीं मारी गई है। उन्होंने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी इतने गैर-जिम्मेदार क्यों हैं? यह एक इमोशनल गेम है। लोगों को भावुक करना इसका मुख्य उद्देश्य था, जिससे सारे मुद्दे भूलकर लोग 'मोदी मोदी मोदी' जपने लगें।


फारूक अब्दुल्लाह
इसी तरह से नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला ने भी एयर स्ट्राइक को लेकर विवादित बयान दिया था। उन्होंने कहा था, 'हमें हमेशा से पता था कि पाकिस्तान के साथ युद्ध के साथ छोटी लड़ाई हो सकती है। लेकिन एयर स्ट्राइक इसलिए हुई क्योंकि चुनाव नजदीक हैं। हमने करोड़ों की लागत का एक एयरक्राफ्ट खो दिया। शुक्र है कि पायलट (विंग कमांडर अभिनंदन) सुरक्षित बच गया और सकुशल स्वदेश लौट आया।'


विनोद कुमार सिंह

समाजवादी पार्टी की सरकार में मंत्री रहे और विवादित बयानों के लिए चर्चित विनोद कुमार सिंह पंडित ने भी एयर स्ट्राइक पर बेहद शर्मनाक बयान दिया। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान से समझौता कर सेना ने खाली मकानों पर बम गिरा कर वाहवाही लूटने का प्रयास किया है। सपा नेता के इस शर्मनाक बयान का वीडियो जमकर वायरल हुआ। सपा नेता ने सेना की कार्रवाई को झूठा बताया। उन्होंने वायुसेना की एयर स्ट्राइक पर ही सवाल उठाये और आरोप लगाया कि भाजपा झूठ बोलने वालों की है पार्टी है। पंडित सिंह ने कहा कि पाकिस्तान से बात करके खाली मकान पर बम गिराए गए हैं। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि एयर स्ट्राइक में कोई भी आतंकी नहीं मारा गया।

 

नवजोत सिंह सिद्धू

पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने ट्वीट करते हुए कहा, ''300 आतंकवादी मारे गए, हां या नहीं? फिर क्या मकसद था? आप आतंकवादियों को मार रहे थे या पेड़ को उखाड़ रहे थे? विदेशी शत्रु से लड़ने की आड़ में छल हमारे जमीन पर हो रही था। क्या यह चुनावी हथकंडा था? सेना का राजनीतिकरण बंद करो, यह देश की तरह पवित्र है।''

Narendra Modi Prime Minister Narendra Modi
Show More
Nakul Devarshi
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned