स्टेट ओपन से10वीं या12वीं करने वाली छात्राओं को नहीं देना होगा शुल्क

स्टेट ओपन से10वीं या12वीं करने वाली छात्राओं को नहीं देना होगा शुल्क

By: Rakhi Hajela

Published: 02 Aug 2020, 01:17 PM IST

स्टेट ओपन से10वीं या12वीं करने वाली छात्राओं को नहीं देना होगा शुल्क
नहीं लिया जाएगा परीक्षा शुल्क, प्रायोगिक विषय शुल्क
यह शुल्क महिला अधिकारिता विभाग करेगा वहन

स्टेट ओपन से 10वीं और 12वीं कक्षा की परीक्षा देने वाली छात्राओं को परीक्षा शुल्क नहीं देना होगा । जानकारी के मुताबिक महिला अधिकरिता और राजस्थान स्टेट ओपन स्कूल की ओर से इस संबंध में एमओयू किया गया है। इस एमओयू के मुताबिक इंदिरा महिला शक्ति प्रशिक्षण और कौशल सम्बद्र्धन योजना शिक्षा सेतु के तहत शिक्षा सत्र 2020 21 में एडमिशन लेने वाली छात्राओं से प्रवेश शुल्क,पुन प्रवेश शुल्क, आंशिक प्रवेश शुल्क,परीक्षा शुल्क, प्रायोगिक विषय शुल्क, अग्रेषण शुल्क,सैद्धांतिक और प्रायोगिक परीक्षा शुल्क नहीं लिया जाएगा। यह शुल्क महिला अधिकारिता विभाग वहन करेगा। हां, अतिरिक्त विषय शुल्क, टीओसी, आवेदन पत्र ऑनलाइन करने का शुल्क छात्राओं को ही वहन करना होगा। शिक्षा की सर्वसुलभता एवं सहजता के लिए राजस्थान स्टेट ओपन स्कूल की स्थापना 21 मार्च, सन् 2005 ई. में की गई। राजस्थान स्टेट ओपन स्कूल, स्कूल से बाहर के सीखने के संसाधनों को औपचारिक मान्यता देने की युक्ति है। 10वीं व 12वीं की परीक्षा हेतु न्यूनतम क्रमश : 14 व 15 वर्ष का कोई भी व्यक्ति पंजीयन करवा सकता है। आयु की अधिकतम कोई सीमा नहीं है। पंजीयन राज्य भर के 441 सन्दर्भ केन्द्रों पर करवाया जा सकता है।

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned