द्रव्यवती नदी के पानी से धरती उगलेगी सोना, जानिए कैसे ?

14 पंप स्टेशन बनाने का काम शुरू

किसानों को खेती के लिए दिए जाएंगे पानी के कनेक्शन

By: SAVITA VYAS

Published: 26 Jan 2021, 12:15 PM IST

जयपुर। लंबे समय बाद द्रव्यवती नदी के पानी से अब गोनेर और उसके आस-पास के इलाकों में खेती होगी। पानी की आपूर्ति के लिए जेडीए द्रव्यवती नदी पर पचास लाख रुपए की लागत से 14 प्वाइंट बना रहा है। बीते तीन साल से स्थानीय किसानों ने पानी के लिए काफी संघर्ष किया था। अधिकारियों के मुताबिक विधानी से लेकर गोनेर तक द्रव्यवती नदी पर 14 पम्प स्टेशन बनाए जाएंगे। यहां से किसान अपने खेतों में पानी ले जा सकेंगे। पानी की मोटर के लिए विद्युत कनेक्शन लिया जाएगा।
देरी से काम शुरू
आगामी समय में पानी की मोटर चलाने के लिए सोलर ऊर्जा का प्रयोग किया जाएगा। फिलहाल बिजली कनेक्शन की व्यवस्था की जा रही है। द्रव्यवती नदी बनाने से पहले किसानों का रीको से करार होने के बाद 14 किसानों को ही द्रव्यवती नदी से पानी के कनेक्शन दिए जाएंगे। पम्प स्टेशन बनाने का काम कन्नू कंसट्रशन कम्पनी को दिया गया है। अप्रैल तक यह कार्य पूरा किया जाना है। कोरोना के चलते इस कार्य को शुरू होने में पांच महीने की देरी पहले ही हो चुकी है।

बन सकती है विवाद की स्थिति

अब उक्त रास्ते पर ही खेती में पानी के लिए लगभग 50 से ज्यादा किसान परिवार कनेक्शन की मांग कर रहे हैंए। इसके लिए किसान जेडीसी से मिलकर पानी कनेक्शन के लिए ज्ञापन सौंपेंगे। फिलहाल अभी 14 किसानों को ही पानी के कनेक्शन देने पर सहमति बनी है। ऐसे में पम्प स्टेशन बनने के बाद कनेक्शन को लेकर विवाद खड़े हो सकते है। गौरतलब है कि 47 किमी लम्बी द्रव्यवती के निर्माण पर करीब 1500 करोड़ रुपए खर्च हुए है। फिलहाल द्रव्यवती के अधूरे पड़े निर्माण कार्य को पूरा करने में टाटा कम्पनी जुटी हुई है।

SAVITA VYAS Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned