राजस्थान के किसानों के लिए खुशखबर, 12 मीट्रिक टन सरसों चना की खरीद होगी

राजस्थान के किसानों के लिए खुशखबर, 12 मीट्रिक टन सरसों चना की खरीद होगी

Ashish Sharma | Publish: Mar, 14 2018 07:13:06 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

प्रदेश में सरसों और चना की खरीद प्रक्रिया 2 अप्रेल से शुरू हो जाएगी...

जयपुर
प्रदेश में सरसों और चना की खरीद प्रक्रिया 2 अप्रेल से शुरू हो जाएगी। सरकार किसानों से न्यूनतम समर्थन मूल्य पर कुल 12 लाख मीट्रिक टन चना और सरसों की खरीद करेगी। कोटा संभाग में 15 मार्च से जबकि शेष प्रदेश में खरीद प्रक्रिया 2 अप्रेल से शुरू होगी। खरीद 90 दिनों के लिए की जाएगी। खरीद के लिए पंजीयन की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। सहकारिता मंत्री अजय सिंह किलक ने बताया की खरीद के लिए राजफैड को नोडल एजेंसी बनाया गया है। राजफैड के जरिए केन्द्र सरकार किसानों से 4 लाख मीट्रिक टन चना एवं 8 लाख मीट्रिक टन सरसों खरीदेगी। अपनी उपज बेचने के लिए अब तक 10 हजार से अधिक किसान आॅनलाइन पंजीयन करवा चुके हैं। मंत्री ने बताया कि सरसों की खरीद के लिए 216 तथा चना की खरीद के लिए 168 केन्द्र बनाये गए हैं। किसानों से सरसों 4 हजार रुपए प्रति क्विंटल एवं चना 4400 रुपए प्रति क्विंटल की दर से न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीदा जाएगा।


सहकारिता मंत्री ने बताया कि इस बार का पूरा प्रयास किया जा रहा है कि किसानों को उपज बेचने के लिए दूर नहीं जाना पड़े। इसलिए सरसों एवं चना उत्पादक क्षेत्रों की सभी क्रय-विक्रय सहकारी समितियों पर खरीद की व्यवस्था की गई है। आपको बता दें कि राज्य में कोटा संभाग में खरीद के लिए आॅनलाइन पंजीयन की प्रक्रिया 12 मार्च से और बाकी संभागों में 14 मार्च से शुरू हो चुकी है। सहकारिता विभाग ने खरीद प्रक्रिया में पारदर्शिता लाने के लिए इस साल पहली बार किसानों के लिए आॅनलाइन पंजीयन की व्यवस्था शुरू की है।

किसानों के लिए टोल फ्री नंबर
राजफैड की प्रबंध निदेशक डॉ. वीना प्रधान ने बताया कि किसानों को किसी प्रकार की समस्या न हो इसके लिए जिला स्तर पर उप रजिस्ट्रार कार्यालय एवं राज्य स्तर पर राजफैड में कंट्रोल रूम बनाया गया है। किसान टोल फ्री नम्बर 18001806001 या 181 पर कॉल करके खरीद से संबंधित समस्याओं का समाधान ले सकते हैं। उन्होंने बताया कि कोटा संभाग में किसानों की सहूलियत के अनुसार 22 खरीद केन्द्र बनाए गए हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned