scriptकई एसयूवी में आए लठैत, सचिवालय नगर में आतंक मचाया और वीडियो सोशल मीडिया पर किए पोस्ट | Goons came in several SUVs, created terror on the land of Secretariat Nagar and fled | Patrika News
जयपुर

कई एसयूवी में आए लठैत, सचिवालय नगर में आतंक मचाया और वीडियो सोशल मीडिया पर किए पोस्ट

बिना नंबर की थी सभी एसयूवी। सभी के हाथों में थे सरिए व लाठियां। पुलिस को न आते दिखे न जाते हुए।

जयपुरJul 03, 2024 / 02:37 pm

Om Prakash Sharma

जयपुर. टोंक रोड स्थित सचिवालय नगर में पट्टेधारियों को कब्जे मिलने से पहले ही वहां भू-माफिया सक्रिय हो गए। कई एसयूवी में सवर लठैत वहां सोमवार को दो जेसीबी के साथ पहुंचे। जेसीबी से मौके पर लगी तारबंदी हटाने के बाद वहां कब्जे का प्रयास किया गया। इस बीच सहकारी विभाग के अधिकारी ने पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी। पुलिस के पहुंचने से पहले ही आरोपी फरार हो गए। हालांकि आरोपियों ने आंतक फैलाने के लिए मौके की वीडियो फेसबुक पर पोस्ट कर दी। सांगानेर सदर थानाधिकारी पूनम चौधरी ने मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।
सचिवालय नगर मुहाना गृह निर्माण सहकारी समिति की आवासीय योजना है। पट्टेधारियों के विवाद के चलते इस सोसायटी को सहकारी विभाग ने अवसायन में ले लिया था। वर्तमान में इसके समापक (संचालक) सहकारी सेवा के अधिकारी आलोक शर्मा को बनाया गया है। आलोक शर्मा ने एफआइआर में बताया कि 90-बी की हुई भूमि पर अवैध कब्जा करने के लिए हमला किया गया था। सचिवालय नगर भूमि में स्थित एक हिस्से की 90-बी की कार्यवाही जेडीए समिति के पक्ष में कर चुका है। इस भूमि का नामांतरण जयपुर विकास प्राधिकरण के नाम दर्ज है। भूमि के पास रहने वाले किसान ने सोमवार को सूचना दी कि करीब सौ से अधिक लोग 30-40 गाडियों में आए हैं। सभी के हाथों में लाठी सरिए हैं। कुछ गाडि़यों की नम्बर प्लेट नहीं थी तथा जिनकी प्लेट लगी थी, उनके नम्बर छिपाए हुए थे। आरोपी दो जेसीबी भी लाए थे, जिससे तारबंदी को तोड़ कब्जे करने में जुटे थे। आलोक शर्मा ने पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी। सांगानेर सदर थाना पुलिस मौके पर पहुंची, उससे पहले आरोपी भाग गए।

फेसबुक पर वीडियो पोस्ट की

जमीन पर कब्जे करने पहुंचे कार सवार को पुलिस का भय नहीं था। उन्होंने आतंक फैलाने के लिए पहले मौके पर खुद ही ने वीडियो बनाए और बाद में इनको फेसबुक पर पोस्ट कर दिया। इसकी रील बनाकर भी सोशल मीडिया पर पोस्ट की गई। अब पुलिस इन्हीं वीडियो के आधार पर आरोपियों को तलाश रही है।

सचिवालय नगर में हैं कई नौकरशाहों के प्लाट

वर्षों पुराने सचिवालय नगर में सोसायटी और किसानों के विवाद के चलते प्लाटधारियों के मौके पर कब्जे नहीं हो पाए। विवाद को देखते हुए सहकारी विभाग ने सोसायटी को अवसायन में लेकर इसके संचालन के अधिकार विभाग के अधिकारी को दिया गया है। इस कॉलोनी में आम लोगों के साथ सहकारी विभाग के अधिकारी और कई आइएएस अधिकारियों के भी प्लॉट हैं।

पत्रिका व्यू……नहीं दिख रहा अपराधियों में भय

राजधानी में इस तरह लठैतों का सरकारी जमीन पर कब्जा करने का प्रयास… यहीं नहीं, आतंक मचाने के लिए वीडियो खुद ही सोशल मीडिया पर अपलोड करना। यह घटना बताती है कि अपराधियों में शहर पुलिस का भय नहीं है। घटना के 24 घंटे बाद भी पुलिस आरोपियों की पहचान नहीं कर सकी है। यह बात सही है कि सूचना मिलने के साथ ही पुलिस सक्रिय हुई, जिससे आरोपी कब्जा करने में सफल नहीं हुई। आरोपियों को पुलिस के आने से पहले भनक लग गई। वे बिना किसी खौफ के आसानी से मौके से भाग जाने में सफल रहे। इस तरह बिना नम्बर प्लेट की गाडि़यों को आते-जाते शहर में कहीं नहीं रोका गया। घटनाक्रम से साफ है कि शहर में जमीन पर कब्जा करने में संगठित गिरोह सक्रिय है। समय रहते पुलिस को ऐसे गिरोह पर कार्रवाई करनी होगी, अन्यथा ऐसी घटनाएं कानून व्यवस्था के लिए चुनौती बनेंगी।

Hindi News/ Jaipur / कई एसयूवी में आए लठैत, सचिवालय नगर में आतंक मचाया और वीडियो सोशल मीडिया पर किए पोस्ट

ट्रेंडिंग वीडियो