scriptGoverner Satpal Malik Pm Narendra Modi Kisan Andolan Rajendra Rathore | संवैधानिक पद पर हैं सतपाल मलिक, उन्हें इस तरह की टिप्पणी नहीं करनी चाहिए-राठौड़ | Patrika News

संवैधानिक पद पर हैं सतपाल मलिक, उन्हें इस तरह की टिप्पणी नहीं करनी चाहिए-राठौड़

उपेनता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने राज्यपाल सत्यपाल मलिक की टिप्पणी पर आपत्ति जताई है। उन्होंने कहा कि मलिक संवैधानिक पद पर है और राष्ट्रपति के प्रतिनिधि हैं। इस पद पर रहते हुए उन्हें केंद्र पर यह टिप्पणी नहीं करनी चाहिए थी। उन्होंने केंद्र पर बेजा टिप्पणी की है।

जयपुर

Published: November 08, 2021 06:48:20 pm

जयपुर।

उपेनता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने राज्यपाल सत्यपाल मलिक की टिप्पणी पर आपत्ति जताई है। उन्होंने कहा कि मलिक संवैधानिक पद पर है और राष्ट्रपति के प्रतिनिधि हैं। इस पद पर रहते हुए उन्हें केंद्र पर यह टिप्पणी नहीं करनी चाहिए थी। उन्होंने केंद्र पर बेजा टिप्पणी की है।
संवैधानिक पद पर हैं सतपाल मलिक, उन्हें इस तरह की टिप्पणी नहीं करनी चाहिए-राठौड़
संवैधानिक पद पर हैं सतपाल मलिक, उन्हें इस तरह की टिप्पणी नहीं करनी चाहिए-राठौड़
भाजपा मुख्यालय पर प्रेस वार्ता में राठौड़ ने राजस्थान सरकार द्वारा पेट्रोल—डीजल पर वैट नहीं घटाने पर नाराजगी जताई। उन्होंने कहा कि जन घोषणा पत्र में कांग्रेस ने घोषणा की थी की पेट्रोल डीजल को जीएसटी के दायरे में लाने के लिए जीएसटी काउंसिल को भेजेंगे, मगर जीएसटी काउंसिल की 14 बैठकें हो चुकी है लेकिन राजस्थान में अभी तक अपनी बात वहां तक नहीं पहुंचाई है। अगर वैट कम नहीं किया गया तो भाजपा सड़कों पर उतरकर इसका विरोध करेगी।
पंजाब के विज्ञापन में राजस्थान में बताया सर्वाधिक वैट

राठौड़ ने पंजाब सरकार द्वारा वैट की दरें कम करने पर जारी किए विज्ञापन के जरिए प्रदेश सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि पंजाब के मुख्यमंत्री ने एक विज्ञापन जारी किया है जिसमें उन्होंने वहां वैट की दरें कम करने की बात कही है। मगर इस विज्ञापन में नीचे की तरफ राजस्थान में सर्वाधिक वसूलने का उल्लेख कर सरकार पर निशाना साध दिया है।
आलाकमान के निर्देश, 22 नवंबर से पहले होगी प्रदेश कार्यसमिति की बैठक

राठौड़ ने कहा कि भाजपा की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक 22 नवंबर से पहले होगी। वहीं 6 दिसंबर से पहले जिला कार्यसमिति और 26 दिसंबर से पहले मंडल कार्यसमिति की बैठकें होंगी। राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक में इस संबंध में निर्देश जारी किए गए हैं। आगामी कार्यक्रम के रूप में पूरे देश भर में बूथ कमेटियों का गठन कर दिया जाएगा इसमें राजस्थान भी शामिल है। इसके अलावा 10 लाख से ज्यादा भाजपा के वॉलियंटर्स जल्द ही शेष रह गए लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाने के लिए प्रेरित करेंगे।
पूनियां के उलट बयान

राठौड़ ने तो उपचुनाव में हुई हार को स्वीकार करते हुए भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां के उलट बयान दिया। उन्होंने कहा कि हम बैठकर हार के कारणों का मंथन करेंगे, लेकिन कांग्रेस को इस जीत से मदमस्त होने की जरूरत नहीं है। राठौड़ ने कहा कि हमारे यहां कलेक्टिव रेस्पॉन्सबिलिटी होती है, इसलिए हम सभी हार के लिए उत्तरदायी हैं। टिकट संसदीय बोर्ड तय करता है, उसमें मैं सदस्य नहीं इसलिए कुछ नहीं कह सकता। आपको बता दें कि पूनियां ने टिकट वितरण के लिए केंद्र को जिम्मेदार ठहराया था।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Republic Day 2022: 939 वीरों को मिलेंगे गैलेंट्री अवॉर्ड, सबसे ज्यादा मेडल जम्मू-कश्मीर पुलिस कोBudget 2022: कोरोना काल में दूसरी बार बजट पेश करेंगी निर्मला सीतारमण, जानिए तारीख और समयशरीयत पर हाईकोर्ट का अहम आदेश, काजी के फैसलों पर कही ये बातUP Assembly Elections 2022 : हेमा, जया, स्मृति और राजबब्बर रिझाएंगें मतदाताओं को, स्टार प्रचारकों की लिस्ट में हैं शामिलछत्तीसगढ़ में 24 घंटे में 19 मरीजों की मौत, जनवरी में ये आंकड़ा सबसे ज्यादा, इधर तेजी से बढ़ रही एक्टिव मरीजों की संख्याUttar Pradesh Assembly Elections 2022: सुभासपा अध्यक्ष कहां से लड़ेंगे चुनाव, ये अभी तक रहस्यWeather Update: राजस्थान में 26 व 27 जनवरी को अति शीतलहर का अलर्ट, 31 तक आसमान साफRepublic Day 2022: परेड में इस बार नहीं होगी दिल्ली-बंगाल की झांकी, सिर्फ 12 राज्यों ही होंगे शामिल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.