फीडबैक में सामने आई समस्याओं पर राहत दे सकती है सरकार

कार्यकर्ताओं (workers) की पीड़ा जानने के लिए कांग्रेस (Congress) की ओर से शुरू हुए संवाद कार्यक्रम (Dialogue program) में सामने आई समस्याओं ( problems) पर सरकार ने होमवर्क पूरा कर लिया है। कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी व कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष के दौरे पर मुख्य तौर पर सात समस्याएं सामने आई थी। इनमें से कई मुद्दों पर राहत मिलने की आस है।

By: vinod

Updated: 14 Sep 2020, 10:06 PM IST

सीकर। आम कार्यकर्ताओं (workers) की पीड़ा जानने के लिए कांग्रेस (Congress) की ओर से शुरू हुए संवाद कार्यक्रम (Dialogue program) में सामने आई समस्याओं ( problems) पर सरकार ने अब लगभग होमवर्क पूरा कर लिया है। कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी अजय माकन (Ajay Maken) व कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा (Govind Singh Dotasara) के सामने संभाग के दौरे पर मुख्य तौर पर सात समस्याएं सामने आई थी। इनमें से कई मुद्दों पर आमजन को जल्द राहत मिलने की आस है।

बिजली वीसीआर: 70 फीसदी से पहले समझौता समिति में
बिजली कंपनियों ने पिछले दिनों बिजली चोरी की समझौता समिति में परिवेदना दर्ज कराने से पहले 70 फीसदी राशि जमा कराने का प्रावधान कर दिया था। इस मामले में सीकर, अजमेर, नागौर, टोंक, भीलवाड़ा, जयपुर, अलवर सहित कई जिलों के वरिष्ठ कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने इस नियम को बदलने की मांग की थी। इस पर प्रदेश प्रभारी अजय माकन ने जल्द इस मामले में राहत दिलाने का आश्वासन दिया था। अब प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की वार्ता में इस नियम को बदलने की लगभग-लगभग सहमति बन गई है।

तबादले: अक्टूबर से ऑनलाइन प्रार्थना पत्र से तबादले

झुंझुनूं व नागौर सहित कई जिलों के विधायकों ने तबादले नहीं होने को लेकर भी संवाद कार्यक्रम में प्रदेश प्रभारी अजय माकन की मौजूदगी में नाराजगी जताई थी। इसके अलावा विधायक मुख्यमंत्री व शिक्षामंत्री को अपनी पीड़ा बता चुके हैं। सूत्रों की मानें तो इस मामले में केबिनेट बैठक की मंजूरी के बाद अक्टूबर से ऑनलाइन पैटर्न के आधार पर तबादले होंगे।
स्वैच्छिक भार वृद्धि योजना:

सरकार जल्द स्वैच्छिक भार वृद्धि की योजना की तिथि को एक-दो महीने आगे बढ़ाने की तैयारी में है। सरकार का मानना है कि इस योजना से प्रदेश के तीन से पांच लाख किसानों को फायदा होगा।
बिजली के कटे हुए कनेक्शन: कुछ छूट के साथ मिलेगा मौका

सरकार की ओर से कुछ छूट के साथ कनेक्शनों को शुरू कराने की योजना बनाई है। मुख्यमंत्री से हरी झंडी के बाद यह योजना भी लागू हो सकेगी।
हर ब्लॉक स्तर पर जनसुनवाई: अधिकारियों के साथ जनप्रतिनिधि भी रहेंगे

संवाद कार्यक्रम में कई कार्यकर्ताओं ने कहा कि अधिकारियों के सुनवाई नहीं करने के कारण आमजन परेशान है। इस पर अब सरकार ने हर ब्लॉक स्तर पर अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों की मौजूदगी में जनसुनवाई करने का निर्णय लिया जाएगा।
प्रभारी मंत्रियों के दौरे: और प्रभावी बनाने की तैयारी

सरकार ने मंत्रियों के प्रभार वाले जिलों में काफी फेरबदल कर दिया है। सरकार मंत्रियों के दौरे को और अधिक प्रभावी बनाने की तैयारी में है। कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी अजय माकन ने कई मंत्रियों के कम दौरे को लेकर भी आपत्ति जताई थी। एेसे में अब एक निश्चित समय सीमा में प्रभारी मंत्रियों को प्रभार वाले जिलों में जाने के साथ वहां के कार्यकर्ताओं से संवाद और अन्य समस्याओं को भी योजना बनाई जा रही है।
जन घोषणा पत्र: दो अक्टूबर को जनत को देंगे हिसाब

विधानसभा चुनाव के दौरान कांगे्रस की ओर से जारी घोषणा पत्र को भी अमलीजामा पहनाने के लिए कांग्रेस सरकार ने तेजी से काम शरू दिया है। कांग्रेस प्रदेश प्रभारी अजय माकन दो अक्टूबर को जनता को अब तक घोषणा पत्र के हिसाब से हुए कार्यों की जानकारी देंगे।

हर समस्या का होगा समाधान
जयपुर व अजमेर संभाग के कार्यकर्ताओं से प्रदेश प्रभारी अजय माकन की मौजूदी में पिछले दिनों चर्चा हुई थी। कार्यकर्ताओं की जो मन की पीड़ा थी उसको लेकर मुख्यमंत्री से चर्चा हुई है। कार्यकर्ताओं की हर समस्या का समाधान किया जाएगा। वीसीआर के मामले में किसानों को जल्द राहत दी जाएगी।

गोविंद सिंह डोटासरा, प्रदेश अध्यक्ष, कांग्रेस

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned