सरकार की टैग लाइन मैं सतर्क हूं, कार्यकर्ताओं ने सटकर लगाए नारे

जयपुर. कोरोना के खिलाफ राज्य सरकार की टैग लाइन 'मैं सतर्क हूं' की आज सत्तारूढ़ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने ही तब हवा निकाल दी जब वे पेट्रोल—डीजल की बढ़ी हुई कीमतों के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान श्रीगंगानगर कलेक्ट्रेट में घुस गए और कार्यकर्ताओं ने एक—दूसरे से सटकर खड़े होकर नारे लगाए।

By: Subhash Raj

Updated: 29 Jun 2020, 08:34 PM IST

कांग्रेस को समर्थन दे रहे श्रीगंगानगर के निर्दलीय विधायक राजकुमार गौड़, जिले के प्रभारी एवं प्रदेश महासचिव मनीष धारणिया और जिला अध्यक्ष पूर्व विधायक संतोष कुमार सहारण की अगवाई में लगभग 100 कार्यकर्ता डीजल पेट्रोल की कीमतों को लेकर केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए दोपहर में जिला कलेक्ट्रेट में ट्रेजरी वाले द्वार से जबरन प्रवेश कर गए। पुलिस ने विधायक राजकुमार गौड़ और पदाधिकारियों को साइकिलों सहित कलेक्ट्रेट में घुसने दिया, लेकिन पुलिस अधिकारियों ने पीछे आ रहे कार्यकर्ताओं के काफिले को सोशल डिस्टेंसिंग का हवाला देकर रोक दिया। इस पर कार्यकर्ता नारेबाजी करने लगे। देखते ही देखते कार्यकर्ता भी साइकिलों पर ही कलेक्ट्रेट में प्रवेश कर गए।
कोरोना वायरस को लेकर केंद्र और राज्य सरकार द्वारा जारी की गई गाइडलाइन की पूरी तरह से अनदेखी कर दी। कलेक्ट्रेट के अंदर भी ये कार्यकर्ता और पदाधिकारी एक साथ घूमते फिरते रहे। जबकि जिला प्रशासन ने धारा 144 लगाई हुई है। धरने प्रदर्शनों पर ही नहीं बल्कि पांच या पांच से अधिक व्यक्तियों के एकत्रित होने पर भी रोक है। उल्लेखनीय है कि गत अप्रैल में भाजपा नेता महेश पेड़ीवाल की अगुवाई में कलेक्ट्रेट में 10-12 व्यक्तियों ने एक समस्या को लेकर सांकेतिक प्रदर्शन किया था। उसी दिन महेश पेडीवाल और अन्य प्रदर्शनकारियों के खिलाफ कलेक्ट्रेट ड्यूटी पर तैनात एक हवलदार की रिपोर्ट पर ही इनके विरुद्ध धारा 144 के उल्लंघन और महामारी अधिनियम की धाराओं के तहत कोतवाली में मुकदमा दर्ज किया गया था।

Subhash Raj
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned