अब गांवों में भी रसायनिक छिडक़ाव, उपकरण खरीद के लिए विधायक दे सकेंगे 5 लाख

सरकार ने एलएलएलैड नियमों में किया संशोधन

जयपुर. कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के बीच सरकार रोजाना इसकी रोकथाम के लिए नए निर्णयों के साथ सामने आ रही है। प्रदेश के विधायक कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए सरकार ने गांवों में भी रसायनिक छिडक़ाव के निर्देश दिए हैं। यह छिडक़ाव अभी सिर्फ नगरीय क्षेत्रों में ही हो रहा था। इसके अलावा बचाव और उपचार में जरूरी उपकरणों एवं अन्य सामग्री की खरीद के लिए विधायक कोष से 5 लाख रुपए तक की अनुशंषा का प्रावधान किया है। सरकार इसके लिए विधाायक कोष से खर्च के नियमों में संशोधन कर दिया है।

एक लाख से अतिरिक्त प्रावधान

उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने बताया कि उपकरण खरीद के लिए पांच लाख रुपए तक की सिफारिश की जा सकेगी। पूर्व में सरकार ने विधायक कोष से मास्क एवं सेनिटाइजर के लिए एक लाख रुपए तक अनुशंषित करने का प्रावधान किया था। ताजा प्रावधान इस राशि के अतिरिक्त होगा। इस राशि से इन्फ्रारेड थर्मामीटर, व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण, थर्मल इमेजिंग स्कैनर,कोरोना जांच किट, वेंटिलेटर आदि उपकरणों की खरीद की जा सकेगी।

सभी ग्राम पंचायतों को निर्देश

पायलट ने कहा कि गांवों में सार्वजनिक स्थानों और भवनों में सोडियम हाइपोक्लोराइड का छिडक़ाव किया जाएगा। इसके लिए सभी ग्राम पंचायतों को आवश्यक राशि स्वीकृत करने की अनुमति सरकार ने दी है। इससे गांवों में संक्रमण की रोकथाम में मदद मिलेगी।

Pankaj Chaturvedi Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned