पेंशनरों की पेंशन नहीं होगी स्थगित

न्यायिक सेवा अधिकारी और हाइकोर्ट जजों पर भी आदेश लागू नहीं

By: Pankaj Chaturvedi

Published: 05 Apr 2020, 08:14 PM IST

जयपुर. राज्य सरकार ने कोरोना संक्रमण के चलते किए गए वेतन एवं पेंशन स्थगन के निर्णय से प्रदेश के पेंशनरों को राहत दी है। अब पेंशनरों की पेंशन स्थगित नहीं की जाएगी।

सरकार ने रविवार को वेतन एवं पेंशन स्थगन के पूर्व में जारी आदेश को संशोधित कर पेंशनरों को स्थगन के दायरे से मुक्त कर दिया। 31 मार्च को आए सरकार के आदेश में पेंशनरों की मार्च माह की तीस प्रतिशत पेंशन स्थगित की गई थी। सरकार के इस निर्णय से प्रदेश के करीब 4 लाख से अधिक पेंशनरों को फायदा होगा। संशोधन आदेश के साथ ही सरकार ने एक स्पष्टीकरण भी जारी किया है, जिसमें कहा गया है कि वेतन स्थगन का आदेश राजस्थान न्यायिक सेवा के अधिकारियों और उच्च न्यायालय के न्यायाधीशों एवं सेवाओं पर लागू नहीं होगा।

बीते गुरुवार को ही सरकार ने चिकित्सकों को भी इस वेतन स्थगन से निर्णय से मुक्त किया था। वित्त् विभाग ने अपने पुराने आदेश में संशोधन करते हुए नया आदेश जारी कर दिया। नए आदेश में वेतन स्थगन से मुक्त अधिकारी, कर्मचारियेां की श्रेणी को अलग से स्पष्ट किया गया था।
इसमें बताया गया कि अब वेतन स्थगन से मुक्त श्रेणी में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य, चिकित्सा शिक्षा महकमों के समस्त कर्मचारी शामिल होंगे। ऐसे में डॉक्टर भी इस श्रेणी में शामिल हो गए। जबकि 31 मार्च के मूल आदेश में डॉक्टर स्थगन से मुक्त कार्मिकों की श्रेणी में नहीं थे।

Pankaj Chaturvedi
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned