कर्मचारियों का महंगाई भत्ता 5 प्रतिशत बढ़ा

डीए अब 12 से बढ़ कर 17 प्रतिशत हुआ, पेंशनरों को भी मिलेगा लाभ

By: Pankaj Chaturvedi

Published: 27 Mar 2020, 06:34 PM IST

जयपुर। प्रदेश में महामारी संकट के बीच सरकार ने प्रदेश के करीब 8 लाख सरकारी कर्मचारी और 4.40 लाख पेंशनरों को राहत दी है। सरकार ने शुक्रवार को कर्मचारियों एवं पेंशनरों के लिए महंगाई भत्ते (डीए) में 5 प्रतिशत बढ़ोतरी की घोषणा कर दी। फिलहाल राज्य कर्मचारियों को वेतन का 12 प्रतिशत महंगाई भत्ता मिलता है। इस बढ़ोतरी के बाद यह 17 प्रतिशत हो गया है। कर्मचारी संगठन लंबे समय से इसकी मांग कर रहे थे।
वित्त विभाग से जारी आदेश के अनुसार महंगाई भत्ते में यह बढ़ोतरी 1 जुलाई, 2019 से लागू होगी। 1 जुलाई, 2019 से 29 फरवरी, 2020 तक बढ़े हुए महंगाई भत्ते की राशि संबंधित कर्मचारियों के जीपीएफ खाते में जमा कराई जाएगी। जबकि 1 मार्च, 2020 से डीए का नकद भुगतान दिया जायेगा, जो कर्मचारियेां को अप्रेल के वेतन में मिलेगा। 1 जनवरी, 2004 को और इसके बाद नियुक्त राज्य कर्मचारियों तथा पेंशनरों को बढ़े हुए महंगाई भत्ते का एरियर भुगतान नकद किया जाएगा।
महंगाई भत्ते में इस वृद्धि से राज्य सरकार पर वित्तीय वर्ष 2020-21 में लगभग 3417 करोड़ रूपये का अतिरिक्त वित्तीय भार पड़ेगा। बढ़े हुए महंगाई भत्ते का लाभ राज्य कर्मचारियों के अतिरिक्त कार्य प्रभारित कर्मचारियों, पंचायत समिति, जिला परिषद के कर्मचारियों तथा राज्य के पेंशनरों को भी देय होगा।
केन्द्र सरकार ने पिछले साल अक्टूबर माह में डीए में बढ़ोतरी के आदेश जारी कर इसे एक जुलाई से लागू किया था। लेकिन राज्य कर्मचारियेां के लिए यह घोषणा अब तक नहीं हो पाई। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बजट 2020—2021 में डीए में बढ़ोतरी का लाभ देने की घोषणा की थी।

Pankaj Chaturvedi
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned