सरकारी और निजी स्कूलों की जारी होगी ग्रेडिंग, अभिभावक कर सकेंगे आंकलन, कौनसा स्कूल अच्छा

शिक्षा राज्यमंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने की घोषणा

By: Vijay Sharma

Published: 15 Sep 2021, 07:46 PM IST

जयपुर। प्रदेश में अब निजी और सरकारी स्कूलों में ग्रेडिंग सिस्टम की शुरूआत की जाएगी। अभिभावक खुद आंकलन कर सकेंगे कि कौनसा स्कूल अच्छा है। ग्रेडिंग में स्कूल की शिक्षा के स्तर से लेकर विकास का आंकलन होगा। शिक्षा राज्यमंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने बुधवार को शिक्षा संकुल में आयोजित एक कार्यक्रम में अधिकारियों को निर्देश दिए। विभाग ग्रेडिंग सिस्टम के लिए मापदंड तय करेगा। डोटासरा ने बताया कि कॉलेजों की तर्ज पर अब स्कूलों में ग्रेडिंग शुरू होगी। इससे आरटीई के जरिए दाखिलों में भी अभिभावकों को अच्छे स्तर की स्कूल चुनने का मौका मिलेगा। किसी मोहल्ले में सी ग्रेड की निजी स्कूल और बी ग्रेड की सरकारी स्कूल है तो बच्चा सी ग्रेड की निजी स्कूल के बजाए बी ग्रेड की सरकारी स्कूल में पढ़कर अच्छी शिक्षा हासिल कर सकता है।


तबादलों के लिए करना होगा इंतजार
वहीं थर्ड ग्रेड शिक्षक तबादलों को लेकर शिक्षा राज्यमंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा कि तृतीय श्रेणी शिक्षकों के तबादलों को लेकर नियम बनाए जाएंगे, हमने शिक्षकों से आवेदन मांगे थे। इसलिए उन्हें निराश नहीं किया जाएगा। वहीं सैकेंड ग्रेड शिक्षक तबादलों को लेकर उन्होंने कहा कि विभाग में जो भी तबादले किए गए हैं उनमें पूरी तरह से पारदर्शिता बरती गई है। मंत्री ने कहा कि कम्प्यूटर शिक्षक भर्ती के लिए शीघ्र ही सिलेबस जारी किया जाएगा। उन्होंने स्कूल क्रमोन्नति, व्याख्याता भर्ती की अनुशंसा किए जाने, आरपीएससी की कम्प्यूटर शिक्षक भर्ती का सिलेबस और विज्ञप्ति भी जल्द किए जाने की बात भी कही। मंत्री ने कहा कि अब कोरोना का प्रकोप धीरे—धीरे कम हो रहा है। कक्षा नौवीं से बारहवीं तक स्कूलों को खोला जा चुका है। आठवीं तक स्कूलों को खोलने को लेकर विभाग में मंथन चल रहा है। इस संबंध में हम कोई जल्दबाजी नहीं करता चाहते। अन्य राज्यों में जहां भी स्कूल खुले हैं वहां का फीडबैक लिया जा रहा है।

Vijay Sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned