हर आदमी तक पहुंच बनाना और चिकित्सा सुविधाएं प्रदान करना बड़ी चुनौती

जयपुर . Health Minister Dr. Raghu Sharma ने कहा बिना किसी Health Care Management के कोई भी चिकित्सा संस्थान सफलता पूर्वक संचालन नहीं कर सकता।

By: Anil Chauchan

Published: 07 Jul 2020, 09:08 PM IST

जयपुर . स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ( Health Minister Dr. Raghu Sharma ) ने कहा बिना किसी हैल्थकेयर मैनेजमेंट ( Health Care Management ) के कोई भी चिकित्सा संस्थान सफलता पूर्वक संचालन नहीं कर सकता। प्रदेश की भौगोलिक स्थिति और बढ़ती हुई आबादी को देखते हुए हर आदमी तक पहुंच बनाना और उसे चिकित्सा सुविधाएं प्रदान करना किसी बड़ी चुनौती से कम नहीं है। हालांकि राजस्थान सरकार लगातार इस प्रयास में है कि यह लक्ष्य हासिल किया जा सके।

डॉ. शर्मा ने आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी के छठे ई-कन्वोकेशन (दीक्षांत समारोह) में मैनेजमेंट के विद्यार्थियों को यह जानकारी दी। इस अवसर पर बोस्टन कंसल्टिंग ग्रुप (बीसीजी) नई दिल्ली की प्रबन्ध निदेशक एवं भागीदार मिस प्रियंका अग्रवाल सम्मानित अतिथि रहीं। आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी के अध्यक्ष डॉ.एस.डी. गुप्ता ने अतिथियों का स्वागत करते हुए यूनिवर्सिटी की वार्षिक रिपोर्ट पढ़ी एवं विद्यार्थियों को सम्बोधित किया।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि आज हमें आवश्यकता है कि एक शानदार हैल्थकेयर सिस्टम विकसित किया जाए जो सस्ता हो और आम आदमी तक आसानी से पहुंच सके। हाल ही में शुरू किए गए ‘निरोगी राजस्थान‘ अभियान का मकसद है कि सरकार आसानी से चिकित्सा सेवा आम आदमी तक पहुंचा सके और पूरी प्रदेश की जनता में जागरूकता कायम कर सके। कोविड 19 के चिकित्सा संकट के दौरान राजस्थान ने कोविड-19 को फैलने से रोकने में सफलता प्राप्त की है।

इस अवसर पर बोस्टन कंसल्टिंग ग्रुप (बीसीजी) नई दिल्ली की प्रबन्ध निदेशक मिस प्रियंका अग्रवाल ने ई-कन्वोकशन की मुख्य वक्ता के रूप में कहा कि भारत में हेल्थकेयर को बदलने के लिए छात्रों में जिस तरह का जुनून है, वह स्वास्थ्य सेवा में मानवीय दृष्टिकोण लाएगा।

आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी के अध्यक्ष डॉ. पंकज गुप्ता ने कहा सभी को बधाई दी। दीक्षान्त समारोह के अध्यक्ष यूनिवर्सिटी के चेयरमैन डॉ. एस.डी. गुप्ता ने भी अपनी बात कही। डीन एवं प्रो प्रेसिडेन्ट डॉ. पी.आर. सोढाणी ने दीक्षान्त समारोह का संचालन किया। यूनिवर्सिटी का यह छठा दीक्षान्त समारोह कोविड-19 लॉकडाउन के चलते ऑन लाइन आयोजित किया गया। कुल 216 विद्यार्थियों को मैनेजमेंट एवं डॉक्टरेट की डिग्री ई-कन्वोकेशन के दौरान प्रदान की गई, जबकि 8 विद्यार्थियों को स्वर्ण, रजत पदक प्रदान किए गए इनमें से 4 छात्राओं को स्वर्ण पदक दिए गए जबकि 3 छात्रा तथा एक छात्र रजत प्रदक प्रदान किए गए।

Anil Chauchan Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned