मनमानी फीस वसूली के खिलाफ अभिभावक एकता आंदोलन को मिला सराफ का समर्थन


विधानसभा में स्थग्न प्रस्ताव के माध्यम से उठाएंगे मामला

By: Rakhi Hajela

Published: 28 Feb 2021, 05:23 PM IST

अभिभावक एकता आंदोलन की ओर से निजी स्कूलों की ओर से मनमानी फीस वसूली के खिलाफ चलाए जा रहे अभिभावक आंदोलन को पूर्व शिक्षामंत्री और वर्तमान विधायक कालीचरण सराफ ने समर्थन दिया है। उन्होंने कहा कि यदि कोई स्कूल गड़बड़ करता है तो अभिभावक एकता आंदोलन की हेल्पलाइन नंबर पर लोड करें, मैं मामले को मुख्यमंत्री तक ले जाऊंगा एवं विधानसभा में स्थग्न प्रस्ताव के माध्यम से उठाने का प्रयास करूंगा। रविवार को आंदोलन के संयोजक मनीष विजयवर्गीय एवं प्रतिनिधिमंडल ने सराफ से मुलाकात की थी। उनकी ओर से रखी गई शिकायतों के बाद सराफ ने यह कहा।

सांसद बोहरा ने हेल्पलाइन का पोस्टर किया जारी
अभिभावक आंदोलन का प्रतिनिधिमंडल जयपुर सांसद रामचरण बोहरा से भी मिला, उन्होंने हेल्पलाइन नंबर 9309333662 का पोस्टर भी जारी किया। इस अवसर पर आंदोलन के संयोजक मनीष विजयवर्गीय, सामाजिक कार्यकर्ता सिद्धार्थ शर्मा, सुशील शर्मा एवं ईशान शर्मा ने अभिभावकों की लिखित शिकायते रखते हुए उनसे मांग की कि वे प्रधानमंत्री एवं केंद्र सरकार तक अभिभावकों का दर्द पंहुचाए। शिक्षा क्षेत्र सेवा की जगह व्यवसाय बन गया है, अभिभावकों को शोषण से मुक्ति मिले इसके लिए संसद में नियम कानून बने एवं कोविड काल में अभिभावकों को राहत के लिए केंद्र सरकार कदम उठाए।

परीक्षा के नाम पर स्कूल बुलाने एवं फीस जमा करवाने के दबाव की शिकायत
सांसद बोहरा एवं विधायक सराफ से अभिभावक प्रतिनिधिमंडल के सदस्य सुनील गुप्ता, अनिल कल्ला, धीरज शर्मा, राजेन्द्र शर्मा ने कहा कि स्कूलों द्वारा विद्यार्थियों को ऑफलाइन परीक्षा में भेजने का एवं उससे पहले फीस जमा करवाने का दबाव डाले जाने की 500 से अधिक शिकायतें हेल्पलाइन पर आ चुकी हैं। अधिकांश स्कूल सुप्रीम कोर्ट के अंतरिम आदेश की अधूरी व्याख्या करके नजायज दबाव डाल रहे हैं जो कि न्यायालय की पूरी तरह अवमानना है, विधायक विधानसभा में एवं सांसद संसद में अभिभावकों के दर्द एवं उनकी मांग को उठा राहत दिलवाएं।

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned