अब गुर्जर महासभा ने राम मंदिर को ​लेकर किया बड़ा दावा

Ayodhya Ram Temple: अयोध्या राम मंदिर निर्माण के लिए गठित होने वालेत्र राम मंदिर ट्रस्ट में गुर्जर समाज को प्रतिनिधित्व दिए जाने की मांग

By: Deepshikha Vashista

Updated: 14 Nov 2019, 05:16 PM IST

जयपुर. अखिल भारतीय गुर्जर महासभा ने अयोध्या राम मंदिर निर्माण के लिए गठित होने वालेत्र राम मंदिर ट्रस्ट में गुर्जर समाज को प्रतिनिधित्व दिए जाने की मांग की है।

महासभा के राष्ट्रीय महासचिव बच्चू सिंह बैंसला ने बताया कि राम मंदिर के प्राप्त अवशेष 11वीं व 12वीं शताब्दी के गुर्जर प्रतिहार वंश द्वारा निर्मित मंदिर के है। उच्चतम न्यायालय में एएसआई की लिखित रिपोर्ट में इसका उल्लेख है जिसमें कहा गया है कि गुर्जर प्रतिहार वंश के राजाओं ने मंदिर का निर्माण कराया था।

इसके पीछे अन्य तर्क भी देते हुए उन्होंने केंद्र सरकार से गुर्जर समाज को ट्रस्ट में प्रतिनिधित्व दिए जाने की मांग की है। बैंसला ने बताया कि इस संबंध में जयपुर में कार्यकारी प्रदेशाध्यक्ष रामप्रसाद धामाई की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में मौजूद गुर्जर प्रतिनिधियों ने प्रस्ताव पारित किया।

उन्होंने कहा कि ग्यारहवीं व बारहवीं सदी में कन्नौज (उत्तर प्रदेश) में गुर्जर प्रतिहारों की राजधानी 150 वर्षों तक रही थी। केंद्र सरकार को गुर्जर समाज की भावनाओं को ध्यान में रखते हुए प्रतिनिधित्व दिया जाना चाहिए ताकि समाज स्वयं को गौरवान्वित महसूस करें।

Deepshikha Vashista
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned