गुर्जर महापंचायत: 50 हजार लोगों के भोजन के पैकेट तैयार, पुलिस अलर्ट, हथियार-लाठी आदि लाने पर पाबंदी

रेलवे स्टेशन पर भी जीआरपी के जवान तैनात किए गए हैं...

By: dinesh

Published: 15 May 2018, 08:58 AM IST

जयपुर। गुर्जरों की मंगलवार को Gurjar Mahapanchayat से पहले सरकार ने गुर्जर प्रतिनिधिमंडल को वार्ता के लिए बुलाया। सचिवालय में करीब 5 घंटे चली वार्ता बिना निर्णय खत्म हुई। सरकार ने दावा किया कि गुर्जर सरकार के हर निर्णय से सहमत हैं, लिखित समझौता मंगलवार को होगा। वहीं गुर्जर नेताओं ने कहा, सरकार ने जो कहा है उस पर चर्चा मंगलवार को अड्डा (भरतपुर) में Mahapanchayat में होगी। इसके बाद ही आगे के निर्णय पर विचार होगा।

 

थानों में पुलिसकर्मियों को अलर्ट
ऐसे में बयाना में मंगलवार को प्रस्तावित गुर्जर महापंचायत पर दौसा जिले के पुलिस-प्रशासन की पैनी नजर है। सभी थानों में पुलिसकर्मियों को अलर्ट कर दिया गया है। महुवा उपखण्ड अधिकारी अजय आर्य ने प्रस्तावित गुर्जर महापंचायत को लेकर सोमवार शाम पांच बजे से उपखण्ड क्षेत्र में धारा 144 लगाने के आदेश जारी किए। इसके तहत हथियार, लाठी आदि लेकर चलने पर पाबंदी रहेगी। एसपी चूनाराम जाट ने बताया कि पुलिस बल मुस्तैद है। सभी थाना प्रभारी अपने-अपने इलाकों में नजर बनाए रखे हैं।

 

महापंचायत की तैयारी, पुलिस प्रशासन मुस्तैद
खेड़ला के सलेमपुर थाना क्षेत्र के करीब 50 गांवों में सोमवार को भी इंटरनेट सेवा बंद रही। पुलिस-प्रशासन गुर्जर महापंचायत को लेकर सतर्क है। महापंचायत के लिए पंच-पटेल जुटे हुए हैं। करीब 50 हजार लोगों के भोजन के पैकेट तैयार करने की जानकारी है। उधर सुरक्षा के मद्देनजर चौथ का बरवाड़ा रेलवे स्टेशन पर भी जीआरपी के जवान तैनात किए गए हैं।

 

राय बनी : सरकार
मंत्री राजेंद्र राठौड़ ने कहा कि सभी मुद्दों पर एक राय बनी है। इनकों लेकर मंगलवार को लिखित समझौता होगा। वार्ता पूरी तरह सफल रही है।
अभी नहीं : गुर्जर
गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के हिम्मत सिंह ने कहा, वार्ता पर निर्णय अभी नहीं। सरकार के आश्वासन पर मंगलवार को महापंचायत में चर्चा होगी। इसके बाद ही आगे की रणनीति तय होगी।

 

ये मौजूद थे बैठक में
बैठक में बैठक में पंचायती राज मंत्री राजेन्द्र राठौड़, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री अरुण चतुर्वेदी, सामान्य प्रशासन विभाग मंत्री हेमसिंह भड़ाना और देवस्थान राज्य मंत्री ओटाराम देवासी के साथ अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) दीपक उप्रेती, अतिरिक्त मुख्य सचिव (समाज कल्याण) जे.सी.मोहंती, एडीजी (क्राइम) पी.के.सिंह, एडीजी (इंटेलीजेंस) यू.आर.साहू, कार्मिक सचिव भास्कर सावंत व अन्य अधिकारी उपस्थित थे। इसके अलावा गुर्जरों के प्रतिनिधि मंडल में हिम्मत सिंह, शैलेन्द्र सिंह, अतर सिंह सहित पन्द्रह सदस्य शामिल रहे।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned