ज्ञान सुधा: मिल रहे पर्सनेलिटी डवलपमेंट के भी टिप्स


अब मिल रहे पर्सनेलिटी डवलपमेंट के भी टिप्स
ज्ञानसुधा से जुड़े 25 हजार से अधिक प्रतिभागी
प्रशासनिक सेवा के अधिकारी ले रहे ऑनलाइन लाइव सेशन

By: Rakhi Hajela

Published: 27 Jun 2021, 09:21 PM IST



जयपुर, 27 जून
कॉलेज शिक्षा विभाग (college education department) की ओर से शुरू किया गया ज्ञानसुधा कार्यक्रम युवाओं को केवल प्रतियोगी परीक्षा (competitive exam) की तैयारी ही नहीं करवा रहा बल्कि पर्सनेलिटी डवलपमेंट के लिए काम आ रहा है। इस कार्यक्रम के जरिए युवाओं को प्रतियोगी परीक्षाओं की निशुल्क तैयारी के साथ साथ विषय ज्ञान, साक्षात्कार की तैयारी, व्यक्तित्व विकास, भाषा कौशल दक्षता, सम्प्रेषण अभिव्यक्ति, परीक्षा मंथन आदि की जानकारी भी दी जा रही है।
10 दिन में 25 हजार से अधिक सब्सक्रइबर्स
उल्लेखनीय है कि युवाओं को प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करवाने के लिए 16 जून को ज्ञानसुधा के नाम से ऑनलाइन लाइव सेशन की शुरुआत की गई थी, इन 10 दिनों में कार्यक्रम के अब तक 25 हजार से ज्यादा सब्सक्रइबर्स हो चुके हैं। हालांकि पहले दिन ऑनलाइन लाइव सत्र में उपस्थित दर्शकों की संख्या लगभग एक हजार रही थी लेकिन इसके बाद परन्तु पहले दिन के इन व्याख्यानों को अब तक 26 हजार से अधिक लोगों ने ऑनलाइन देखा है।
आप पूछ सकते हैं अपने सवाल
इतना ही नहीं ज्ञान सुधा में यह भी सुविधा दी गई है कि इससे यूट्यूब पर लाइव देख रहे युवा अपने सवाल भी पूछ सकते हैं। कॉलेज शिक्षा विभाग के ज्ञानसुधा चैनल पर सीधे जाकर इस लाइव प्रोग्राम को देखा जा सकता है। 16 जून से शुरू हुआ यह कार्यक्रम यू ट्यूब पर लाइव स्ट्रीमिंग के माध्यम से हर बुधवार और शनिवार को लाइव होता है। एक दिन में इसमें 40-40 मिनट के दो ऑनलाइन लाइव सत्र आयोजित करवाए जाते हैं।
आईएएस अधिकारी दे रहे टिप्स
ज्ञान सुधा की खासियत है कि भारतीय प्रशासनिक सेवा के जुड़े अधिकारी खुद इसमें युवाओं को विभिन्न विषयों की जानकारी देते हैं। कॉलेज शिक्षा आयुक्त संदेश नायक के साथ आयोजना विभाग के शासन सचिव नवीन जैन, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के शासन सचिव डॉ. समित शर्मा, पूर्व जिला कलेक्टर जगरूप सिंह, जयपुर से हिन्दी के ख्यातिनाम विद्वान डॉ. राघव प्रकाश, दिल्ली विश्वद्यिालय के डॉ. पल्लव एवं बिहार से प्रखंड विकास अधिकारी डॉ. रवि रंजन, नेशनल करियर काउंसलर डॉ. चन्द्र शेखर श्रीमाली, राजस्थान विश्वविद्यालय के गणित शास्त्र के विभागाध्यक्ष डॉ. परेश व्यास, हिन्दी के प्रसिद्व लेखक आलोचक व स्तम्भकार डॉ. दुर्गाप्रसाद अग्रवाल आदि इस जुड़े हुए हैं और वह समय समय पर युवाओं को विभिन्न विषयों के संबंध में जानकारी देते हैं। इनके अलावा भी कई अन्य वरिष्ठ आईएएस और आरएएस अधिकारी इस कार्यक्रम से जुड़े हुए हैं।
इनका कहना है,
प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे युवाओं में कोरोना के कारण से जो निराशा एवं असमंजस की स्थिति पैदा हुई उससे इस युवा पीढ़ी को उभारने तथा इन्हें नि:शुल्क सहायता एवं मार्गदर्शन उपलब्ध कराने की इस मुहिम ने भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों, शिक्षाविदें तथा राज्य के बाहर स्थित उच्च शिक्षण संस्थानों का अच्छा सहयोग मिल रहा है।
संदेश नायक, कमिश्नर
कॉलेज शिक्षा

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned