मानसून में खास देखभाल

बारिश के मौसम में बालों का टूटना, रुखापन और डेंड्रफ की समस्या बढ़ जाती है

By: Archana Kumawat

Published: 19 Jun 2021, 11:19 PM IST

तेज गर्मी के बाद बारिश का मौसम सभी को सुखद अहसास देता है लेकिन इन दिनों बालों की समस्या सबसे ज्यादा बढ़ जाती है। त्वचा की तरह बाल भी चिपचिपे होने लगते हैं। इससे बालों के टूटने और डेंड्रफ की समस्या होने लगती है। ऐसे में यदि आप रसायनिक प्रोडक्ट्स का प्रयोग करेंगे तो बालों की नेचुरल ब्यूटी खत्म हो जाएगी। आइए जानते हैं कुछ उपयोगी टिप्स के बारे में, जिन्हें आप घर पर आजमाकर अपने बालों को मजबूत और डेंड्रफ मुक्त कर सकते हैं।

गुनगुने तेल से करें मसाज
रुखे और बेजान बालों के लिए तेल लगाना ही काफी नहीं होता है। तेल का अधिक लाभ लेने के लिए जरूरी है कि गुनगुने पानी से मसाज की जाए। शैंपू करने से एक घंटा पहले बालों में गुनगुना तेल लगाएं। इससे तेल बालों की जड़ों में अच्छी तरह से समा जाएगा। इसके बाद हर्बल शैंपू और कंडीशनर का प्रयोग करें। बारिश के मौसम में एंटी बैक्टीरियल शैंपू और कंडीशनर का इस्तेमाल किया जा सकता है। यह बालों में संक्रमण की समस्या से निजात दिलाएगा।

सही प्रोडक्ट्स का करें चुनाव
त्वचा की तरह ही बालों के लिए भी सही प्रोडक्ट्स का चुनाव करना बहुत महत्त्वपूर्ण है। यदि बाल ऑयली हैं तो ऑयल बैलेंस करने वाला शैंपू और कंडीशनर लगाएं। इसी तरह रुखे बालों के लिए मॉइश्चराइजिंग शैंपू का इस्तेमाल करें। साथ ही अच्छे किस्म का हेयर ब्रश काम में लें।

घरेलू हेयर पैक्स लगाएं
आम और पुदीने का पेस्ट बालों में लगाएं और आधे घंटे के बाद शैंपू कर लें। बालों में चमक रहेगी। इसी तरह एक पके हुए केले में आधा बड़ा चम्मच शहद मिलाएं और बालों की जड़ों में लगाएं। इससे बालों का रुखापन दूर होगा।

इन बातों का ध्यान रखें
कुछ लोग पूरी रात बालों में तेल लगाकर रखते हैं। ऐसा नहीं किया जाना चाहिए। तेल लगाने के दो-तीन घंटे बाद ही बालों में शैंपू कर लेना चाहिए।
शैंपू करने के बाद बालों को प्राकृतिक तरीकों से सूखने दें। गीले बालों को बांधे नहीं। बालों को सुखाने के लिए माइक्रोफाइबर टावल का प्रयोग किया जा सकता है।
बारिश के मौसम में नमी बढऩे से बालों के प्राकृतिक तेल को नुकसान पहुंचता है। ऐसे में बाल टूटने लगते हैं। इसलिए बालों के सूखने के बाद हेयर सीरम लगाना चाहिए।
शैंपू करते समय बालों को गुनगुने पानी से धोना चाहिए। कंडीशनर या हेयर मास्क लगाने के लिए चौड़े ब्रश वाले कंघे का प्रयोग किया जाना चाहिए।
तनावमुक्त रहें। तनाव में बाल टूटने की समस्या होने लगती है।
स्वस्थ जीवनशैली
स्वस्थ बालों के लिए जीवनशैली भी स्वस्थ होनी चाहिए। नियमित बालों की देखभाल को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाएं। पौष्टिक और संतुलित आहार लें। यदि आपकी डाइट में माइक्रो न्यूट्रिएंस की कमी होगी तो बालों के टूटने की समस्या बढ़ जाती है। इसलिए नियमित ६-८ गिलास पानी पीएं। डाइट में हरी पत्तेदार सब्जियां, नट्स, बीज, मोटा अनाज, गाजर, डेयरी प्रोडक्ट्स, अंकुरित अनाज, बेरीज आदि को शामिल करें।

Archana Kumawat
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned