हनुमान बेनीवाल के भाजपा के साथ जाने के बाद इस सीट से इनका टिकट कटना तय, सियासी गलियारों में बढ़ी हलचल

कांग्रेस ने नागौर से ज्योति मिर्धा को टिकट दिया है...

By: dinesh

Updated: 04 Apr 2019, 03:03 PM IST

जयपुर।

भारत वाहिनी पार्टी के प्रमुख घनश्याम तिवाड़ी के कांग्रेस में शामिल होने के बाद आरएलपी के अध्यक्ष हनुमान बेनीवाल ( hanuman beniwal ) ने गुरुवार को भाजपा के साथ गठबंधन कर लिया है। जिसके बाद प्रदेश की कई लोकसभा सीटों ( Lok Sabha Election 2019 ) पर समीकरण बदल सकता है। बेनीवाल नागौर सीट से चुनाव लड़ेंगे। बेनीवाल के इस ऐलान से नागौर से सांसद और केन्द्रीय मंत्री सी.आर. चौधरी (C.R. Chaudhary) का टिकट कटना तय माना जा रहा है। वहीं कांग्रेस ने नागौर से ज्योति मिर्धा (Jyoti Mirdha) को टिकट दिया है।

 

सी.आर. चौधरी भारतीय जनता पार्टी के सदस्य हैं और नागौर से भारतीय आम चुनाव 2014 जीत कर संसद पहुंचे हैं। मोदी सरकार में चौधरी केन्द्रीय मंत्री भी है। इस बार भी लोकसभा चुनावों में भाजपा की ओर से उन्हें ही नागौर सीट से संभावित उम्मीदवार माना जा रहा था। लेकिन बेनीवाल के भाजपा से गठबंधन के बाद नागौर सीट से चुनाव लडऩे के ऐलान के साथ ही सी.आर. चौधरी का टिकट कटना तय माना जा रहा है।

 

वहीं दूसरी ओर बेनीवाल के भाजपा में शामिल होने से शेखावाटी की राजनीति पर भी गहरा असर देखने को मिल सकता है। बेनीवाल की इस क्षेत्र में जाट बाहुल्य पर अच्छी पकड़ है। ऐसे में जाट मतदाताओं को लुभावने के लिए भाजपा का ये कदम कारगर साबित हो सकता है। हनुमान बेनीवाल सीकर, चूरू, झुंझुनूं, नागौर जिले में काफी प्रभाव रखते हैं। बेनीवाल ने विधानसभा चुनाव में शेखावाटी के कई स्थानों पर भाजपा कांग्रेस के कद्दावर नेताओं को अपनी पार्टी से चुनावी मैदान में उतारा था। हालांकि इनमें से जीत तो किसी को नहीं मिली, लेकिन भाजपा-कांग्रेस दोनों ही पार्टियों को नुकसान उठाना पड़ा था।

 

बेनीवाल का भाजपा से गठबंधन कांग्रेस के लिए बहुत बड़ा झटका है। नागौर से कांग्रेस ने ज्योति मिर्धा को टिकट दिया है। बेनीवाल के भाजपा से हाथ मिलाने से पहले राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी और कांग्रेस के बीच गठबंधन को लेकर बात हुई थी, लेकिन दोनों के बीच सहमति नहीं बन पाई। हनुमान बेनीवाल ने कांग्रेस से 7 सीटें मांगी थी, लेकिन कांग्रेस आरएलपी को केवल 3 सीटें ही देने को तैयार थी। इसके बाद बेनीवाल ने कांग्रेस की ओर से दिया गया गठबंधन का प्रस्ताव ठुकरा दिया था।

 

Read Latest Rajasthan News in Hindi on Patrika. Rajasthan Lok sabha election Result 2019 से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए Download करें Patrika Hindi News App.

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned