Hanuman Beniwal की Rajnath Singh से मुलाक़ात, नागौर की खींवसर सीट पर क्या बनी बात?

Hanuman Beniwal की Rajnath Singh से मुलाक़ात, नागौर की खींवसर सीट पर क्या बनी बात?

Nakul Devarshi | Publish: Aug, 08 2019 11:55:29 AM (IST) | Updated: Aug, 08 2019 12:12:20 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

जस्थान के नागौर से सांसद हनुमान बेनीवाल ( Nagaur MP Hanuman Beniwal ) ने बुधवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ( Defence Minister Rajnath Singh ) से मुलाक़ात की। नागौर की खींवसर सीट ( Nagaur Khinwsar Assembly Seat ) पर प्रस्तावित विधानसभा उपचुनाव को देखते हुए इस मुलाक़ात के कई मायने भी निकाले जाने लगे हैं।

जयपुर।

राजस्थान के नागौर से सांसद हनुमान बेनीवाल ( Nagaur MP hanuman beniwal ) ने बुधवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ( Defence Minister rajnath singh ) से मुलाक़ात की। दिल्ली स्थित रक्षा मंत्री के आधिकारिक आवास 17 अकबर रोड पर हुई इस मुलाक़ात में कई मसलों पर बातचीत हुई। इधर, नागौर की खींवसर सीट ( Nagaur Khinwsar Assembly Seat ) पर प्रस्तावित विधानसभा उपचुनाव को देखते हुए इस मुलाक़ात के कई मायने भी निकाले जाने लगे हैं। हालांकि बेनीवाल ने इसे चुनावों से नहीं जोड़कर महज़ औपचारिक मुलाक़ात ही बताया है।

 

मुलाक़ात के ये निकाले जा रहे मायने
दरअसल, राजस्थान में विधानसभा की दो सीटों नागौर की खींवसर और झुंझुनू की मंडावा सीट पर उपचुनाव होने हैं। इन उपचुनावों को लेकर कांग्रेस ने तो अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं, लेकिन भाजपा खेमे में फिलहाल असमंजस की स्थिति है।

 

ज़्यादा सस्पेंस खींवसर सीट को लेकर बना हुआ है क्योंकि इस सीट से हनुमान बेनीवाल ने राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी से चुनाव लड़ा था। जिन्हें लोकसभा चुनाव में भाजपा समर्थित प्रत्याशी बनाते हुए चुनाव मैदान में उतारा गया था। बेनीवाल चुनाव जीतकर सांसद बन गए थे।

 

ऐसे में अब भाजपा और बेनीवाल की रालोपा पार्टी के बीच खींवसर सीट से उम्मीदवार चयन को लेकर स्थितियां साफ नहीं है। हनुमान बेनीवाल दिल्ली में लगातार भाजपा के वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात कर रहे हैं।

 

बुधवार को रक्षामंत्री राजनाथ सिंह के साथ हुई मुलाकात को भी विधानसभा उपचुनाव से जोड़कर देखा जा रहा है। उपचुनाव और गठबंधन की कश्मकश के बीच इस मुलाकात को बेहद अहम माना जा रहा है।

 

राजनीतिक गलियारों में गरमाई चर्चा
हनुमान बेनीवाल के सांसद बनने के बाद खींवसर विधानसभा सीट खाली हुई है। इस सीट पर साल के अंत में उप चुनाव की सुगबुगाहट भी शुरू हो चुकी है, लेकिन एक प्रश्न जो सबके मन में उठ रहा है वो ये कि क्या बेनीवाल इस सीट के लिए भारतीय जनता पार्टी से गठबंधन करेंगे? क्या इस सीट से भाजपा और आरएलपी अपना संयुक्त उम्मीदवार उतारेगी?

 

बेनीवाल कर चुके हैं स्थिति साफ़
जुलाई में जब राजस्थान में गठबंधन खबरें आई थीं तब हनुमान बेनीवाल ने किसी भी तरह के गठबंधन से इनकार किया था। बेनीवाल तो यहां तक कह चुके हैं कि रालोपा पार्टी ने सिर्फ केंद्र की मोदी सरकार से गठबंधन किया है। वो अब उप चुनावों में ही नहीं, बल्कि 2023 में होने वाले विधानसभा चुनावों में भी अपने ही उम्मीदवार उतारेगी। ऐसे में अब भाजपा के समक्ष संकट है कि क्या वो खींवसर से अपना उम्मीदवार उतारेगी या नहीं?

 

बेनीवाल ने की मुलाकात
फिलहाल राजनाथ सिंह और हनुमान बेनीवाल के बीच हुई मुलाक़ात के दौरान नागौर संसदीय सीट से जुडी कुछ मांगों पर चर्चा होना सामने आया है। जानकारी के अनुसार सांसद बेनीवाल ने संसदीय क्षेत्र नागौर में सैनिक स्कूल खोले जाने की मांग रखी है। साथ ही बीआर मिर्धा कॉलेज और बालिका कॉलेज में NCC की महिला विंग शुरू किये जाने की भी मांग की है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned