Hanuman Beniwal की हुंकार! लोकसभा चुनाव 2019 में इन सीटों पर भी लड़ सकते हैं चुनाव, वहीं भाजपा प्रत्याशियों के नामों पर अमित शाह लगाएंगे मुहर

Hanuman Beniwal अधिक से अधिक सीटों पर चुनाव लडऩे की बात कह रहे हैं...

By: dinesh

Updated: 02 Mar 2019, 05:33 PM IST

जयपुर।

विधानसभा के बाद अब लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Election 2019) में भी राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (रालोपा) के राष्ट्रीय संयोजक हनुमान बेनीवाल (Hanuman Beniwal) अपनी ताकत दिखाने में जुट गए हैं। पार्टी ने प्रदेश में उम्मीदवार चयन की प्रक्रिया शुरू कर दी है। पार्टी को खासतौर पर पश्चिमी और मध्य राजस्थान में अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद है। लोकसभा चुनावों को लेकर कांग्रेस, भाजपा के साथ ही बसपा की तैयारियां तेज हो गई हैं। वहीं रालोपा ने अभी अपने पत्ते नहीं खोले हैं। बेनीवाल अधिक से अधिक सीटों पर चुनाव लडऩे की बात कह रहे हैं। विधानसभा चुनाव में बेनीवाल ने घनश्याम तिवाड़ी की भारत वाहिनी पार्टी से गठबंधन किया था। हालांकि यह गठबंधन नाम का ही साबित हो कर रह गया था। इसकी वजह गठबंधन वाली सीटों पर दोनों ही दलों के उम्मीदवार खड़े होने से पैदा हुई थी। वहीं भारत वाहिनी के अधिकांश उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गई थी।

 

इन सीटों पर अधिक उम्मीद
विधानसभा चुनाव में रालोपा ने नागौर जिले में दो सीट हासिल की हैं। इनमें खींवसर से खुद हनुमान बेनीवाल तो मेड़ता से इंदिरा देवी विधायक चुनी गई। जोधपुर जिले के भोपालगढ़ में पुखराज चुनाव जीत चुके हैं। बाड़मेर,जैसलमेर में भाजपा को हरवाने में रालोपा की अहम भूमिका रही। ऐसे में नागौर और बाड़मेर-जैसलमेर लोकसभा सीट से रालोपा उम्मीद लगाए बैठी है।

 

इधर... भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के स्तर पर ही चर्चा
राजस्थान विधानसभा चुनाव में शिकस्त मिलने के बाद भारतीय जनता पार्टी लोकसभा चुनाव 2019 में जीत के लिए रणनीति बनाने में जुटी हुई है। लोकसभा चुनावों को लेकर भाजपा में प्रत्याशियों के चयन को लेकर मंथन जयपुर नहीं दिल्ली में हो रहा है। सभी मुद्दों पर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के स्तर पर ही चर्चा हो रही है। प्रदेश का दखल इस मामले में कम हो गया है। पार्टी के सूत्रों के अनुसार प्रत्याशियों के चयन को लेकर जितने भी सर्वे करवा रही है, वो शाह के स्तर पर ही हो रहे हैं। पार्टी जानकारों का कहना है कि टिकट बंटवारे से पहले शाह अपने स्तर पर हर संभावित प्रत्याशी के बारे में बारीकी से फीडबैक ले रहे हैं।

 

प्रदेश में केवल रायशुमारी
प्रदेश के स्तर पर बस एक बार रायशुमारी हुई है और उसकी रिपोर्ट दिल्ली भेज दी गई है। भाजपा ने प्रदेश में संगठन के कार्यकर्ताओं से रायशुमारी कर लोकसभावार तीन-चार नाम दिल्ली भेज दिए थे। अब राष्ट्रीय स्तर पर इन सभी का फील्ड सर्वे करवाया जा रहा है। रायशुमारी के अलावा अन्य नामों पर भी सर्वे हो रहे हैं। साथ ही जनता की राय भी जानी जा रही है। प्रदेश संगठन से चर्चा की जा रही है और यह जिम्मा चुनाव प्रभारी एवं केन्द्रीय मानव संसाधन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने संभाल रखा है। सभी 25 सीटों के लिए जावड़ेकर के निर्देश पर ही कमद उठाए जा रहे हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned