खुद खा रहे हैं गुड और गुलगुले से परहेज की दे रहे हैं नसीहत-पूनियां

यूपी के हाथरस में गैंगरेप पीड़िता की मौत के बाद राहुल गांधी और प्रियंका गांधी एक अक्टूबर को पीड़ित परिवार से मिलने जा रहे थे। लेकिन यूपी पुलिस ने उन्हें रास्ते में ही रोक दिया। इसे लेकर धक्का-मुक्की भी हुई।

By: Umesh Sharma

Published: 02 Oct 2020, 05:36 PM IST

जयपुर।

यूपी के हाथरस में गैंगरेप पीड़िता की मौत के बाद राहुल गांधी और प्रियंका गांधी एक अक्टूबर को पीड़ित परिवार से मिलने जा रहे थे। लेकिन यूपी पुलिस ने उन्हें रास्ते में ही रोक दिया। इसे लेकर धक्का-मुक्की भी हुई। इसके विरोध में एक अक्टूबर की शाम को ही जयपुर के स्टेच्यू सर्किल पर कांग्रेस ने धरना दिया। लेकिन सरकार ने धारा 144 लागू कर रखी है और खुद सरकार के मंत्री और विधायक ही इसकी धज्जियां उड़ाते नजर आए। इसे लेकर भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां और उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने सरकार पर निशाना साधा है।

पूनियां ने ट्वीट के जरिए लिखा कि "गांधीगीरी या गांधी परिवार की चमचागीरी! क्या धारा 144 यहां लागू नहीं है। सरकार खुद गुड खाकर गुलगुले से परहेज की नसीहत दे रही है। अपने गिरेबां में झांको और नौटंकी मत करो। अपराधों की राजधानी राजस्थान दलित उत्पीड़न में दूसरे नंबर पर है। इसका जवाब है क्या आपके पास। उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने भी ट्वीट के जरिए गहलोत सरकार और कांग्रेस को आड़े हाथों लिया। राठौड़ ने लिखा "प्रदेश में एक लाख 37 हजार से ज्यादा कोरोना संक्रमित केस हैं, एक्टिव केसों की संख्या 21 हजार के करीब और मौत का आंकड़ा 1500 को पार कर गया है। कोविड-19 का कहर चरम पर है, लेकिन धारा 144 लगाने वाली कांग्रेस सरकार के मंत्री ही खुलेआम इसका उल्लंघन कर रहे हैं. एक बार जो कमिटमेंट किया है, उसे तो पूरा करे सरकार"।

Umesh Sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned